आप प्रत्याशी पर महिला ने उठाया बड़ा सवाल, मरणव्रत पर बैठने की दी धमकी


तरनतारन, 15 अप्रैल (विकास मरवाहा): लोकसभा चुनाव में पंजाब की खडूर साहिब सीट से आम आदमी पार्टी द्वारा प्रत्याशी बनाए गए मनजिंदर सिंह सिद्धू बड़ी समस्या में घिरते नजर आ रहे हैं। करीब छह साल पहले हुए उसमां कांड की पीड़िता ने उनकी उम्मीदवारी पर बड़ा सवाल उठाया है और सिद्धू के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। महिला ने कहा है कि यदि मनजिंदर सिंह सिद्धू को चुनाव मैदान से नहीं हटाया गया तो वह मरण व्रत पर बैठेगी। उसने आप के सुप्रीमो और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को इस संबंध में पत्र लिखा है। उसमां कांड की पीड़िता ने केजरीवाल को पत्र लिखकर दी चेतावनी : बता दें कि मनजिंदर सिंह सिद्धू उसमां कांड के मुख्य आरोपितों में हैं और इस घटना के कारण उन्हें करीब छह माह जेल में रहना पड़ा था। महिला ने अपने पत्र में केजरीवाल को उसमां कांड के बारे में पूरी जानकारी दी है और ऐसे व्यक्ति को आम आदमी पार्टी का प्रत्याशी बनाने पर सवाल उठाया है। उसने बताया कि 3 मार्च 2013 को एक विवाह समागम के दौरान उसके साथ कुछ टैक्सी चालकों ने छेड़छाड़ की  थी। इन लोगों में मनजिंदर सिंह सिद्धू भी शामिल था। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस पार्टी ने उसके और उसके परिजनों के साथ मारपीट की। यह मामला सड़क से लेकर संसद तक गूंजा था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर उसे सुरक्षा मुहैया करवाई गई थी। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर तरनतारन पुलिस ने टैक्सी चालक मनजिंदर सिंह सिद्धू (अब खडूर साहिब से आप प्रत्याशी), उसके साथी पलविंदर सिंह और कुछ पुलिस कर्मियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। पंजाब सरकार ने सुरक्षा वापस ली : महिला के अनुसार सुप्रीम कोटज़् के आदेश पर उसे सुरक्षा प्रदान की गई थी और सीआरपीएफ के 12 जवान सुरक्षा में तैनात थे। पंजाब में कांग्रेस सरकार बनते ही सुरक्षा वापस ले ली गई। इसे लेकर वह मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को मिलने लिए पांच बार चंडीगढ़ गई, लेनिक वह नहीं मिले। लोकसभा चुनाव के लिए मुझे  टिकट मिलने पर मेरे खिलाफ साजिश रची जा रही है। इस साजिश में कई राजनीतिक लोग शामिल हैं।