मामला : दीनानगर के एफ.सी.आई. गोदामों से करोड़ों  के श्रीनगर भेजे चावल का : छापेमारी दौरान मिले गुरदासपुर की निजी मिल से


गुरदासपुर, दीनानगर 19 अप्रैल (आरिफ, शर्मा, संधू) : बीते दिनों दीनानगर के एफ.सी.आई गोदामों में से करोड़ों रुपए के चावलों का घोटाला होने का समाचार सामने आया था। ज़िक्रयोग्य है कि राकेश कुमार पुत्र प्रीतम चंद निवासी गुरदासपुर ने एस.एस.पी. गुरदासपुर को शिकायत की थी कि वह भारतीय खाद निगम की ओर से दीनानगर केंद्र से श्रीनगर के अलग-अलग केन्द्रों का ढुलाई का ठेकेदार है और उसने 6, 7 और 8 मार्च 2019 और 4 अप्रैल 2019 को चावलों के साथ भरीं गाड़ियां एफ.सी.आई डीपू दीनानगर से बड़गाम (श्रीनगर) के लिए भेजी थे परन्तु यह गाड़ियां माने हुए स्थान पर नहीं पहुँची। एस.एस.पी. गुरदासपुर की ओर से इसकी जांच डी.एस.पी. महेश कुमार को सौंप दी गई। जांच के बाद पुलिस ने 20 के करीब ट्रक मालिकों और ट्रक चालकों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज कर लिया परन्तु इस कहानी में नया मोड़ तब आया जब आज दीनानगर की पुलिस भारी पुलिस फोर्स के साथ गुरदासपुर के कलानौर रोड पर स्थित एक निजी शिवा शक्ति राइस मिल पर रेड करने पहुँची, जहाँ उन्होंने दीनानगर से श्रीनगर के लिए रवाना हुए चावलों का सरकारी बारदाना बरामद किया। इस बात की पुष्टि एस.एच.ओ. दीनानगर मनोज कुमार की ओर से भी की गई है कि जो चावल गायब हुए थे, वह इस मिल पर उतारे गये थे।  क्षेत्र में इस पूरे मामले के पीछे अच्छे असर-रसूख वाले व्यक्तियों का करोड़ों रुपए के घुटाले में शामिल होने की चर्चा है। हालाँकि पुलिस ने अपनी प्राथमिक जाँच दौरान उन ट्रक चालकों और ट्रक मालिकों ख़िलाफ़ अलग-अलग धाराओं के अंतर्गत मामला दर्ज किया है जो इस डीपू से रवाना हुए थे।