बच्चों का व्यक्तित्व चित्रों द्वारा होता है उजागर


बच्चों को तस्वीरों के माध्यम उनकी मनोदशा की पहचान कैसे समझ सकते है।
फूल : फूलों के चित्र बनाने वाले बच्चे बहुत सेंसटिव नेचर और प्रकृति प्रेमी होते है। वे आमतौर पर बहुत इमानदार और कला प्रेमी और साफगोई के प्रति निष्ठावान और आदर्श जीवन की कामना करते है।
तारे : जो बच्चा तारों का रेखांकित करता हो, वह नाम और अपनी प्रसिद्धि का चाह्वान होता है। 
बादल : ऐसा बच्चा सपनों के पंखों पर सदा लटकता रहना चाहते है। वह यथार्थवाद (असलीयत) से कोसों दूर रहता है।
आंखें : आंखों को चित्रित करने वाले बच्चे बड़े चौकने और दूसरों को परखने में गहराई तक जाते है।
दिल : दिल का चित्रिण करने वाले बच्चे बहुत सेंसेटिव और सेंटीमेंटल नैचर के होते है। अच्छे मित्र होते है।
पेड़-पौधे : उनकी इच्छा शक्ति प्रबल होती है। उनमें सेंस ऑफ डीवोशन पाई जाती है।

— राम प्रकाश शर्मा