ट्विटर पर चौपाल लगा बुरे फंसे कैप्टन


चंडीगढ़, 22 अप्रैल (विक्रमजीत सिंह मान): लोकसभा चुनावों संबंधी सम्पर्क बनाने के लिए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह द्वारा सोशल मीडिया का सहारा लिया जा रहा है। कैप्टन द्वारा जन सम्पर्क के साधन के तौर पर ट्विटर पर चौपाल लगा कर लोगों को सुझाव व शिकायतें बताने संबंधी ट्वीट किया जिस का कोई बढ़िया समर्थन कैप्टन को नहीं मिली, बल्कि वह ट्विटर पर चौपाल लगाकर कसूते फंसे ही नज़र आ रहे हैं। ट्विटर पर कैप्टन द्वारा लगाई चोपाल मौके आम लोगों द्वारा किए सवाल ने कैप्टन की चिंता ज़रूर बढ़ा दी होगी। दो दिन में हैशटैग कैप्टन दी चौपाल पर हज़ारों ट्वीट पहुंचे, परन्तु उनमें ऐसा विरला ही ट्वीट देखने को मिला, जिसमें कैप्टन सरकार की तारीफ की गई हो। विपरीत कुछ लोगों ने तो कैप्टन सरकार को फेल सरकार तक करार दे दिया। कैप्टन की चौपाल पर ज्यादातर लोगों ने कैप्टन को कज़र्ा माफी, बेरोज़गारी, टैस्ट व इंटरव्यू क्लियर करने के बाद भी नौकरी का इंतज़ार कर रहे नौजवानों के सवाल, प्रबोशन पीरियड में सिर्फ बेसिक वेतन क्यों, मोबाइल फोन, खस्ता हाल सड़कें, कानून-व्यवस्था को लेकर सवाल किए थे। हालांकि कैप्टन ने खरड़ में चौपाल लगा कर लोगों को आश्वासन दिलवाया कि राज्य सरकार की वित्तीय हालत सुधरते ही जनता की शिकायतें दूर कर दी जाएंगी।