भूमि पेडनेकर खुद को निखारा है अपने दम पर


भूमि  पेडनेकर ने ‘दम लगाके हईशा’ फिल्म में बिल्कुल ही अलग लुक में इंडस्ट्री में कदम रखा। इस फिल्म को सर्वश्रेष्ठ हिन्दी फिल्म के लिए नैशनल अवार्ड भी मिला। खुद को अपने दम पर निखारने वाली भूमि दर्शकों की बहुत धन्यवादी भी है, जिन्होंने उसे मोटी और पतली दोनों रूप में पसंद किया। रोल की डिमांड के अनुसार अपना वज़न घटाने और बढ़ाने वाली भूमि की तीन फिल्में बैक टू बैक आई हैं। ‘टायलेट एक प्रेम कथा’, ‘शुभ मंगल सावधान’ और नेटप्लिक्स पर जोया अख्तर द्वारा निर्देशित ‘लस्ट स्टोरीज’ इस सब में भूमि की खूब तारीफ हुई। ‘सोन चिरैया’ फ्लॉप की लाइन में ही लगी रही। अलग-अलग सबजेक्ट वाली फिल्में सिर्फ भूमि की किस्मत में ही लिखी हैं। अपनी स्क्रीन इमेज को लेकर परवाह न करने वाली भूमि इन दिनों उत्तर प्रदेश में अपनी एक फिल्म की शूटिंग में व्यस्त है। शूटिंग के दौरान भूमि को एक सबसे अधिक आयु वाली शार्प शूटर का किरदार मिला है। आठ घंटे उत्तर प्रदेश की तपती गर्मी में शूट करना और भूमि के मेकअप को तीन घंटा का समय लगता है। इसी मेकअप की वजह से भूमि की चेहरे की त्वचा पर निशान पड़ गए और उसका चेहरा खराब हो गया। लेकिन भूमि को इसकी कोई परवाह नहीं।