शिक्षा एक ऐसी दौलत है जिसे कोई चुरा नहीं सकता


शिक्षा हर नारी का अधिकार है। ऐसी दौलत को कोई चुरा नहीं सकता। नारी में असीम शक्ति है, जिसे नज़रअंदाज़ नहीं किया जा सकता। नारी के पास शिक्षा एक ऐसा अधिकार है, जो कभी भी नारी को किसी के सामने झुकने नहीं देता। आज के युग में हर लड़की के लिए शिक्षा ज़रूरी हो गई है। लड़की को अपने पैरों पर खड़ा होना आवश्यक है। शिक्षा के सहारे वह कोई भी मंज़िल हासिल कर सकती है। यदि हमारे समाज में कुछ कुरीतियों को समाप्त कर दिया जाए तो हमारे समाज में शांति आ जायेगी। हमें घर-घर जाकर लोगों को जागरूक करना होगा। हमें अपनी लड़कियों से शिक्षा के मामले में किसी तरह का भी मतभेद नहीं करना चाहिए। जितनी शिक्षा बेटे के लिए निर्धारित की गई है, उतनी ही शिक्षा बेटी को दिलाई जाए। 

—डा. सुभाष पुरी ‘राही’
मो. 81969-72992