सरसों-सोया आदि खाद्य तेलों में मंदे के बाद मजबूती : सीपीओ नरम


नई दिल्ली, 9 जून (एजेंसी): गत सप्ताह सरसों, सोया सहित सभी तेल-तिलहनों में पूर्वार्द्ध में मुनाफावूसली बिकवाली आने से 50/150 रुपए प्रति क्विंटल का मंदा आ गया था, लेकिन उत्तरार्द्ध में घटे भावों पर लोकल व चालानी मांग निकलने से बाजार मजबूती लिये बंद हुआ। वहीं सीपीओ मलेशिया व इंडोनेशिया के निर्यातकों की बिकवाली आने से वहां बजार पांच/सात डॉलर मुलायम हो गये। सोया सहित अन्य डीओसी खल में भी ग्राहकी का सपोर्ट कमजोर रहा। आलोच्य सप्ताह सरसों में राजस्थान व हरियाणा के स्टॉकिस्टों की बिकवाली आने से ऊपर के भाव से कच्ची मंडियों में 50/60 रुपए प्रति क्विंटल का मंदा आ गया था। जो सरसों निवाई, टोंक एवं कोटा लाइन की जयपुर पहुंच में 4115/4120 रुपए प्रति क्विंटल बिक गयी थी, उसके भाव नीचे में 4070/4075 रुपए सप्ताह के मध्य में आ गये थे। उसके बाद राजस्थान, हरियाणा, यूपी, एमपी सहित सभी राज्यों की मंडियों में आवक टूटकर कुल 70-75 हजार बोरी रह जाते ही भाव 30/35 रुपए मजबूत बोलने लगे। राजस्थान की सरसों कोटा लाइन की दुबारा 4100/4105 रुपए एवं अलवर-भरतपुर की मंडी में 4025/4030 रुपए 42 प्रतिशत कंडीशन की बिक गयी। सरसों का स्टॉक कच्ची मंडियों से निकल गया है।