अमृतसर जेल में ‘हैपेटाइटिस-सी’ का बोलबाला


अमृतसर, 24 जून (गगनदीप शर्मा) : केंद्रीय सुधार घर (अमृतसर जेल) फताहपुर, झब्बाल रोड में हैपोटाइटिस-सी का बोलबाला है। वायरल लोड टैस्ट की रिपोर्ट से जेल में बंद 2 हजार के करीब कैदियों के काला पीलिया की चपेट में आने का खुलासा हुआ है। सिवल अस्पताल विभाग द्वारा इस मामले प्रति गंभीरता दिखानी शुरू कर दी गई है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिखकर दवाओं का अतिरिक्त स्टॉक भेजने की गुजारिश भी की जा चुकी है।  जेल अंदर कैदियों में वजन कम होना, खाना कम खाना, कमजोरी, बुखार, पेट में पानी भरना, खून की उल्टियां आना, पेशाब का रंग गहरा होना जैसी बीमारियां सामने आ रही थी। इस पर जेल प्रशासन द्वारा सिवल सर्जन डॉ. हरदीप सिंह घई को लिखकर कैदियों की चिकित्सा जांच करवाने का आग्रह किया।  सिवल अस्पताल के सीनियर मैडिकल अधिकारी (एस.एम.ओ) डॉ. रजिंदर अरोड़ा का कहना है कि जब एक सरिंज से एक से अधिक लोग ड्रग लेते हैं तब ऐसी समस्या पेश आती है। उन्होंने कहा कि वैसे तो हैपेटाइटिस-सी का ईलाज बहुत मंहगा है लेकिन उन्होंने इन कैदियों का ईलाज शुरू करवा दिया गया है। ईलाज के वक्त दवा की कमी न आए इसके लिए पहले ही स्वास्थ्य विभाग को स्टॉक भेजने बारे लिख कर भेज दिया गया है।