भारत से पहले पूरा करेंगे करतारपुर गलियारे का निर्माण : खाशिफ अली


अमृतसर, 26 जून (सुरिन्द्र कोछड़): पाकिस्तान द्वारा आज करतारपुर साहिब गलियारे के निर्माण की कुछ ताज़ा तस्वीरें जारी की गईं जिनसे स्पष्ट हो जाता है कि ‘डिवैल्पमैंट आफ करतारपुर कोरिडोर’ प्रोजैक्ट अधीन 28 दिसम्बर को सीमा के उस पार गलियारे का शुरू किया गया निर्माण युद्ध स्तर पर जारी है। तस्वीरों में यह भी स्पष्ट तौर पर दिखाई दे रहा है कि निर्माण के चलते गुरुद्वारा करतारपुर साहिब व निकट मुसाफिरखाना, बारादरी, लंगर भवन व सरोवर सहित कुछ अन्य स्मारकों के निर्माण का काम अपने अंतिम चरण पर पहुंच चुका है जबकि दरिया रावी पर पुल निर्माण लगभग मुकम्मल हो चुका है। गुरुद्वारा साहिब से भारतीय सीमा तक सड़क व गुरुद्वारा साहिब के निकट टर्मीनल व गैलरी आदि का काम भी काफी अधिक मुकम्मल हो चुका है।
गलियारे का निर्माण करवा रही कम्पनी के सीनियर इंजीनियर खाशिफ अली ने करतारपुर साहिब में चल रहे निर्माण के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि दोनों देशों में बनी राजनीतिक कड़वाहट के बावजूद गलियारे का निर्माण निर्विघ्न जारी है तथा पाक द्वारा यह भारत के मुकाबले पहले मुकम्मल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि निर्माण के चलते सरां व 9868 स्कवेयर फुट में सरोवर आदि का काम 75 प्रतिशत तक मुकम्मल कर लिया गया है जबकि गलियारे के लिए सड़क बनाने का काम 80 प्रतिशत, सीवरेज का 70 प्रतिशत, पानी सप्लाई का 65 प्रतिशत व पानी निकासी का काम 60 प्रतिशत से अधिक मुकम्मल कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के आस-पास लगभग 10 एकड़ में लगाए गए मार्बल के बीच लॉन बनाने का का आते एक-डेढ़ माह में मुकम्मल होगा। उक्त इंजीनियर अनुसार श्री करतारपुर गलियारे के लिए गुरुद्वारा साहिब से भारतीय बार्डर टर्मीनल तक बनाई जाने वाली सड़क के निर्माण का काम 31 अगस्त तक मुकम्मल किया जाना है, जबकि बार्डर टर्मीनल का निर्माण 31 जुलाई तक मुकम्मल कर लिया जाएगा। उधर ईवैकूई ट्रस्ट प्रापर्टी बोर्ड के अधिकारियों का कहना है कि निर्माण का पहला चरण इस वर्ष सितम्बर माह के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा। दूसरे चरण में यात्रियों के लिए अस्थाई रिहायश, 5 व 7 तारा होटल तथा शापिंग माल/मार्किट आदि का निर्माण वर्ष 2022 तक पूरा किया जाएगा।