हरियाणा विधानसभा चुनावः कांग्रेस ने जारी किया घोषणा पत्र


चंडीगढ़, 11 अक्तूबर (राम सिंह बराड़ ) : हरियाणा विधानसभा चुनाव 2019 के लिए कांग्रेस द्वारा  अपना घोषणा पत्र पार्टी के चंडीगढ़ कार्यालय में जारी किया गया। घोषणा पत्र में पार्टी ने समाज के हर वर्ग का ख्याल रखा है। सभी वर्गों के बीच भाईचारा कायम करना ही पार्टी की प्राथमिकता रही। इसमें किसान, कर्मचारी, मज़दूर, दलित, पिछड़ा वर्ग, महिलाओं, बुजुर्गों, व्यापारियों, उद्योगपतियों व आम जनता का विशेष ख्याल रखा गया है। घोषणा पत्र में कांग्रेस ने सरकार बनने पर 24 घंटे में कर्ज माफी, भूमिहीन किसानों को भी कज़र्माफी, दो एकड़ तक ज़मीन रखने वाले किसानों को बिजली मुफ्त देने व प्राकृतिक आपदा से फसल खराब होने पर 12 हज़ार रुपए प्रति एकड़ मुआवज़ा देने का वादा किया गया है। गुलाम नबी आजाद, पवन खेड़ा, कुमारी सैलजा, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, किरण चौधरी व आफताब अहमद, सुरेश गुप्ता व अन्य उपस्थित थे। आजाद ने कहा कि हरियाणा में कांग्रेस की सरकारों ने बहुत अच्छा काम किया और भाजपा के शासन में कुछ नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस काम में तो हीरो है, पर पब्लिसिटी में जीरो है। 
घोषणा पत्र में महिलाओं को सरकारी नौकरियों में 33 फीसदी आरक्षण, निजी संस्थानों में भी आरक्षण, पंचायती राज संस्थाओं व शहरी निकायों में 50 प्रतिशत आरक्षण देने का वादा किया गया। रोडवेज में महिलाओं को मुफ्त यात्रा कराई जाएगी। सकंल्प पत्र में यह भी कहा गया कि सुप्रीम कोर्ट में एसवाईएल की मज़बूत पैरवी करके इसके निर्माण का प्रयास किया जाएगा। 
गर्भवती महिलाओं को बच्चे के जन्म तक 3500 रुपए हर माह दिए जाएंगे। उसके बाद पांच साल तक 5 हज़ार दिए जाएंगे। घोषणा पत्र में एससी छात्रों को वज़ीफा देने का वादा, मेधावी छात्रों को दसवीं तक 12 हज़ार सालाना व 11-12वीं के मेधावी एससी छात्रों को 15 हज़ार रुपए मिलेंगे। क्रीमिलेयर सीमा 6 लाख से बढ़ाकर 8 लाख सालाना की जाएगी। बेरोज़गार स्नातक को 7 हज़ार, एमए पास को 10 हज़ार भत्ता मिलेगा। प्रदेश के युवाओं को निजी उद्योगों में 75 प्रतिशत आरक्षण व लोगों को 300 यूनिट तक प्रतिमाह बिजली मुफ्त देने का वायदा किया गया है।
कांग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र में किए गए वादे :-
1. गरीब किसानों को मुफ्त बिजली।
2. सभी नौकरियों में महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण।
3. हरियाणा रोडवेज की बसों में महिलाओं को मुफ्त यात्रा।
4. अनुसूचित जाति के लिए एससी कमीशन का पुनर्गठन।
5. गर्भवती महिलायों को बच्चे के जन्म तक 3500 रुपए प्रतिमाह।
6. बच्चे के जन्म के बाद उसके पांच साल का होने तक 5000 रुपए प्रतिमाह।
7. स्नातक बेरोज़गारों को 7000 रुपए और स्नात्कोतर कर चुके बेरोज़गारों को 10000 रुपए प्रतिमाह बेरोज़गारी भत्ता।
8. किसानों का कर्ज सरकार बनते ही 24 घंटे के अंदर माफ। भूमिहीन किसानों का भी कज़र् माफ।
9. एससी एसटी छात्रों को हर महीने 12 हज़ार का वजीफा।
10. हर ज़िले में मैडीकल कॉलेज व यूनिवर्सिटी बनाई जाएगी।
11. हर सरकारी संस्था में बनाया जाएगा वाईफाई जोन।
12. नशा तस्करी रोकने के लिए विशेष एसटीएफ के गठन।
13. उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए व्यापार आयोग का गठन।
14. मॉब लिंचिंग पर कड़ा कानून बनाऐंगे व अपराधी साबित लोग नौकरी के लिए अयोग्य होंगे।
15. पत्रकारों का बस किराया व टोल माफ, 20 हज़ार के पैंशन व केशलैस इलाज की सुविधा।
16. केंद्र की तर्ज पर रिटायरमेंट की उम्र 58 से बढ़ाकर 60 साल की जाएगी।