एफएटीएफ द्वारा पाक को 'डार्क ग्रे' लिस्ट में डालने की तैयारी, दोस्त देशों ने नहीं दिया साथ


पेरिस,15 अक्तूबर - कंगाली की कगार पर खड़े पाकिस्तान की मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही हैं। टेरर फंडिंग रोकने में नाकाम रहने पर पाकिस्तान को फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की समीक्षा मीटिंग में करारा झटका लगा है। सोमवार की मीटिंग में पाकिस्तान को किसी भी देश का साथ नहीं मिला। यहां तक पाकिस्तान के हमदर्द चीन, मलेशिया और तुर्की भी उसके साथ नहीं आए। पाकिस्तान पहला से ही ग्रे लिस्ट में है। ऐसे में अब उसे डार्क ग्रे लिस्ट में डाला जा सकता है। बता दें कि एफएटीएफ का फैसला 18 अक्तूबर को आना है।