अफ्रीका का सबसे ऊंचा पेड़




अफ्रीका के किलिमंजारो पर्वत पर एक पेड़ देखा गया है, जिसकी ऊंचाई पूरे 815 मीटर (यानी 267 फुट) है। तुलना के लिये देख सकते हैं कि एक 20 मंज़िला इमारत लगभग इतनी ऊंची होगी। मगर यह दुनिया का सबसे ऊंचा पेड़ नहीं है। वह रुतबा तो उत्तरी अमरीका के 116 मीटर ऊंचे सिकोइया पेड़ को हासिल है। इस पेड़ की खोज जर्मनी के बेराइथ विश्वविद्यालय के एंड्रियास हेम्प ने की है। उन्होंने करीब 20 साल पहले देखा था कि किलिमंजारो पर्वत पर एंटानड्रोफ्रेगमा एक्सेलसम के ऊंचे-ऊंचे पेड़ हैं। मगर तब वे इनकी ऊंचाई नहीं नाप पाए थे। अब उन्होंने नए साधनों का उपयोग करके इन्हें नापा है। 
उन्होंने 2012 से 2016 के बीच लेज़र उपकरणों की मदद से नापकर 10 सबसे ऊंचे पेड़ों को चिंहित किया। इनकी ऊंचाईयां 59.2 मीटर से 81.5 मीटर के बीच थीं और व्यास 0.98 से 2.55 मीटर के बीच थे। हेम्प ने इन पेड़ों की वृद्धि दर के आंकड़ों के आधार पर गणना की है कि इन पेड़ों की उम्र 500 से 600 वर्ष के बीच है। उनके ये निष्कर्ष बायोडाइवर्सिटी एंड कंज़रवेशन नामक शोध पत्रिका में प्रकाशित हुए हैं। 
वैसे देखा गया है कि दुनिया के सबसे ऊंचे वृक्ष अफ्रीका में नहीं पाये जाते। इसका कारण यह लगता है कि अफ्रीका में अध्ययन इतने कम हुए हैं कि कई पेड़ों को देखा तक नहीं गया है। इसके अलावा एक कारण यह भी हो सकता है कि अफ्रीका में जिस इलाके में ऐसे ऊंचाई की संभावना वाले पेड़ उगते हैं, वहां की मिट्टी इतनी उपजाऊ नहीं है। लिहाज़ा वे अपनी पूरी सम्भावना को साकार नहीं कर पाते। (स्रोत फीचर्स)