टिकट वितरण को लेकर कैप्टन व प्रशांत आमने-सामने



चंडीगढ़, 11 जुलाई (विक्रमजीत सिंह मान): पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कैप्टन अमरेन्द्र सिंह व पंजाब कांग्रेस के रणनीति बनाने वाले प्रशांत किशोर विधानसभा चुनावों के लिए उम्मीदवार को टिकटों के वितरण को लेकर आमने-सामने आ गए। आज इस संबंधी कैप्टन ने स्पष्ट किया कि चुनाव लड़ने के लिए पार्टी की टिकटें जारी करने का विशेष अधिकार केवल कांग्रे्रस अध्यक्ष सोनिया गांधी के पास है। पार्टी उम्मीदवारों की जांच व चुनाव प्रक्रिया में प्रशांत किशोर की कम्पनी 'आई पैकÓ की शमूलियत को खारिज करते हुए प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष ने स्पष्ट किया कि आई पैक की इस प्रक्रिया में कोई भूमिका नहीं है और इसका केवल सलाहकार की भूमिका है जोकि रणनीति बनाने तक ही सीमित है। कैप्टन ने कहा कि एआईसीसी ने किसी भी एजैंसी को उम्मीदवारों की जांच या चुनने संबंधी किसी भी प्रक्रिया को लेकर कोई जि़म्मेवारी नहीं सौंपी है। वर्णनीय है कि इस बात का प्रचार भी जोरों पर है कि आई पैक द्वारा भी प्रदेश में टिकटों के वितरण समय अहम भूमिका निभाई जाएगी और आई पैक द्वारा उम्मीदवारों के लिए टिकट अप्लाई करने वाला फार्म भी जारी कर दिया गया था। इस संबंधी कैप्टन अमरेन्द्र ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी उम्मीदवारों की जांच करेगी और सूची एआईसीसी को सौंपी जाएगी, जो इसे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की अगुवाई वाली सैंट्रल इलैक्शन कमेटी (सीईसी) को रैफर करेगी, जिसके पास अंतिम अधिकार है। इस संबंधी प्रदेश अध्यक्ष ने यह भी स्पष्ट किया कि पार्टी प्रशासन, प्रबंधन व प्रोग्राम को लागू करना व रणनीति हमेशा से पंजाब प्रदेश कांगे्रेस कमेटी के विशेष अधिकार रहेंगे। इसी प्रकार पार्टी टिकटों के लिए इच्छुकों के लिए आवेदन फार्म जारी करने बारे उन्होंने कहा कि यह पहली बार नहीं हुआ है कि पार्टी ने आवेदन मांगे हैं। यह प्रक्रिया लम्बे समय से चलती आ रही है।