भारत विश्व का सर्वाधिक गति से विकास करने वाला देश : जेतली


लुधियाना, 15 जुलाई (सुधीर अग्निहोत्री): केंद्र सरकार द्वारा समय-समय पर शुरू किये कार्यक्रमों के कारण भारत विश्व का वह देश बन गया है, जो कि सर्वाधिक गति के साथ विकासशील है। केंद्रीय वित्त व रक्षा मंत्री अरुण जेतली ने लुधियाना स्थित सतपाल मित्तल स्कूल में ‘सत्या भारती अभियान’ हेतु आयोजित समारोह की अध्यक्षता करते हुए कहा कि समय की जरूरत है कि निजी क्षेत्र की कम्पनियां अपनी समाजिक व व्यापारिक जिम्मेदारी को समझते हुए लाभ का 2 प्रतिशत हिस्सा देश के विकास हेतु दें, जिससे वार्षिक दर पर लगभग 14 से 15 हजार करोड़ रुपये देश के विकास हेतु खर्चे जा सकते हैं। उन्होंने कहा कि देश के सर्वपक्षीय विकास की गति को तेज करने के लिए निजी कम्पनियां अपनी नैतिक जिम्मेदारी समझते हुए सहयोग दें तथा इस संबंधी रखे उद्देश्य को निजी क्षेत्रों के सहयोग के बिना पूरा करना कठिन है। इसी क्रम में जेतली ने केंद्र सरकार के आगामी 5 वर्षीय योजनाओं व उद्देश्यों पर भी चर्चा की। जेतली ने पूछे प्रश्नों के उत्तर में कहा कि जी.एस.टी. किसी पर बोझ नहीं है, बल्कि व्यापारियों, उद्यमियों व करदाताओं की मुश्किलों को कम करने हेतु लागू किया गया है। उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा कि जी.एस.टी. जन हितकारी है तथा भविष्य में इसके लाभ देखने को मिलेंगे।
केंद्र सरकार पंजाब के विकास में योगदान दे : मनप्रीत बादल : वित्त व योजना मंत्री पंजाब स. मनप्रीत सिंह बादल ने कहा कि पंजाब की कैप्टन सरकार का उद्देश्य पंजाब को पुरानी खुशहाली पर ले आना है। उन्होंने इस हेतु केंद्र सरकार के उपस्थित वित्त मंत्री जेतली से अपील करते हुए कहा कि केंद्र सरकार पंजाब के विकास में अपना योगदान दे, वहीं उन्होंने व्यापारिक क्षेत्रों से भी पंजाब की खुशहाली व विकास हेतु सहयोग देने की अपील की।
अमृतसर में 55 हज़ार से अधिक शौचालय बनाए जायेंगे : मित्तल  : भारती फाउंडेशन के प्रमुख श्री राकेश भारती मित्तल ने कहा कि उनकी संस्था द्वारा 2014 में शुरू समाजिक सेवा दौरान ग्रामीण क्षेत्र में लगभग 87 हजार परिवारों को 17 हजार 600 शौचालय बनाकर दिये हैं। उन्होंने कहा कि अब ज़िला अमृतसर साहिब में 125 करोड़ की लागत से 55 हज़ार से ज्यादा शौचालय बनाकर दिये जायेंगे।