होशियारपुर जेल में गैंगस्टरों व जेल प्रशासन में झड़प


होशियारपुर, 17 जुलाई (नरेन्द्र मोहन शर्मा): केंद्रीय जेल होशियारपुर में कैद एक गैंगस्टर को छुड़ाने तथा फरार होने की नीयत से सुरक्षा वार्ड की दीवार कूदने वाले 10 कैदियों को जेल प्रशासन द्वारा कड़ी मेहनत उपरांत काबू किए जाने का समाचार प्राप्त हुआ है। बताया जाता है कि उक्त कैदियों ने डिप्टी जेल सुपरिडैंट पर भी हमला किया तथा उसके बचाव में आने वाले सुरक्षा कर्मचारियों के साथ भी वो भिड़ गए। जेल का अलार्म बजने पर जेल गार्ड ने एकत्र होकर हमलावरों को काबू किया। सूचना मिलते ही डी.एस.पी सिटी सुखविंदर सिंह, एस.एच.ओ सिटी कमलजीत सिंह तथा बड़ी गिनती में पुलिस पार्टी ने मौके पर पहुंच कर बड़ी मुश्किल से हालात पर काबू पाया तथा गैंगस्टर बंदियों को उनके ब्लाकों में बंद किया। केंद्रीय जेल के सहायक सुपरिडैंट आशा नंद ने थाना सिटी पुलिस के पास दर्ज करवाई शिकायत में बताया कि कैदी गुरप्रीत सिंह उर्फ लाडी पुत्र महिन्दर सिंह निवासी शेरखान ज़िला फिरोजपुर जो 3 वर्ष की सज़ा काट रहा है। उन्होंने बताया कि 16 जुलाई को उक्त कैदी द्वारा सुरक्षा वार्ड की दीवार कूदी थी जिस कारण इसको अलग ब्लाक नंबर 8 में बंद किया गया था। आज ब्लाक 12 तथा 13 में बंद गैंगस्टर बंदी दीवारें कूद कर जेल से फरार होने की नीयत से आए तथा ब्लाक नंबर 8 में बंदी गुरप्रीत सिंह उर्फ लाडी को जब्रदस्ती छुड़वाने के लिए इन्होंने कैदी निगरानों तथा कर्मचारियों पर हमला कर दिया। इस अवसर पर डिप्टी सुपरिडैंट जेल द्वारा कर्मचारियों सहित इन गैंगस्टरों को रोकने की कोशिश की गई तो इन्होंने एकत्र होकर उनके ऊपर हमला कर दिया तथा वर्दी फाड़ने की भी कोशिश की। गंभीर स्थिति को देखते जेल का अलार्म बजाया गया तथा पुलिस ने बड़ी गिनती में पहुंच कर मौके पर इन गैंगस्टरों को बड़ी मुश्किल तथा सख्ती से काबू किया। उन्होंने बताया कि फरार होने की नीयत वालों में हवालाती मनप्रीत सिंह उर्फ मनी पुत्र कशमीर सिंह, शमशेर सिंह उर्फ शेरा पुत्र सुरिन्दर सिंह कैदी चढ़त सिंह पुत्र कारज सिंह, हवालाती परमजीत सिंह उर्फ पम्मा पुत्र जरनैल सिंह, कैदी दलजीत सिंह उर्फ भाना पुत्र लखविंदर सिंह, हवालाती सतीश गिल्ल पुत्र बावा राम, दलवीर सिंह उर्फ दलवीरा पुत्र जोगिन्दर सिंह, रनवीर सिंह पुत्र सुखदेव सिंह, गुरप्रीत सिंह उर्फ गोपी पुत्र निर्मल सिंह, कैदी राजवीर सिंह पुत्र जगतार सिंह शामिल थे। इस संबंधी थाना सिटी के एस.एच.ओ कमलजीत सिंह से संपर्क किया तो उक्त गैंगस्टरों खिलाफ सहायक केंद्र जेल द्वारा शिकायत मिली है तथा उस पर अगली कार्रवाई की जा रही है।