उत्तर प्रदेश में ज़हरीली गैस के रिसाव से 300 बच्चे बीमार




लखनऊ, 10 अक्तूबर (भाषा): उत्तर प्रदेश के शामली में ज़हरीली गैस के रिसाव की चपेट में आकर एक स्कूल के करीब 300 बच्चे बीमार हो गये। घटना की खबरें सामने आते ही प्रशासन ने अपने स्तर पर कार्रवाई शुरू कर दी है, जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सहारनपुर के आयुक्त को इस मामले की जांच के आदेश दिये हैं। प्राप्त जानकारी के अनुसार शामली में बुढाना रोड पर स्थित निजी स्कूल सरस्वती शिशु मंदिर में आज अचानक कई बच्चों की हालत बिगड़ने लगी। लोगों ने बताया कि स्कूल के पास ही शामली शुगर मिल का बायो गैस प्लांट है। इस शुगर मिल के लोगों ने सड़क के किनारे कथित रूप से रसायन फैंका था, उसी के उत्सर्जित गैस के प्रभाव से बच्चे बीमार हुए हैं। प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले की जांच के आदेश सहारनपुर के कमिश्नर को दिये हैं। शामली के ज़िलाधिकारी और स्थानीय अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वह प्रभावित बच्चों के इलाज में हर संभव मदद करें। अतिरिक्त महानिदेशक मेरठ जोन प्रशांत कुमार के अनुसार इस मामले में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने कहा कि सभी बच्चे सुरक्षित हैं और उनका स्थानीय अस्पतालों में इलाज चल रहा है। स्थानीय लोगों के अनुसार इस रसायन से उठने वाला गंध इतना तेज़ था कि स्कूल में मौजूद बच्चों पर इसका बहुत बुरा प्रभाव हुआ। गंध के कारण बच्चों के गले में जलन, छाती में जलन और घबराहट होने लगी थी। प्रशासन आगे की कार्रवाई कर रहा है।