पहली छमाही में सरकार को 15.8 प्रतिशत ज्यादा डायरेक्ट टैक्स


नई दिल्ली : इस साल अप्रैल से सितम्बर के बीच डायरैक्ट टैक्स क्लेक्शन 15.8 पर्सेंट बढ़कर 3.86 लाख करोड़ रुपये हो गया। फाइनेंस मिनिस्ट्री ने कहा कि इसकी वजह एडवांस टैक्स क्लेक्शन में आई तेज़ उछाल रही है। मिनिस्ट्री की तरफ से बुधवार को जारी प्रोविजनल डेटा के मुताबिक, पर्सलन एडवांस टैक्स कलेक्शन 30 प्रर्सेंट से ज्यादा बढ़ा।  मौजूदा फिस्कल ईयर की पहली छमाही में नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 9.8 लाख करोड़ रुपये के बजट अनुमान का 39.4 पर्सेंट रहा है। सितम्बर तक 1.77 लाख करोड़ रुपय े का एडवांस टैक्स कलेक्शन हुआ जो पिछले साल से 11.5 प्रर्सेंट अधिक है।