हत्या के लिए 35 लाख की सुपारी लेकर रेकी कर रहे गिरोह के 8 सदस्य काबू 


होशियारपुर, 12 अक्तूबर (नरेन्द्र मोहन शर्मा/ शैलेंद्र जोशी) : हत्या करने के लिए 35 लाख रुपये की सुपारी लेकर इलाके में रैकी कर रहे राजीव राजा गैंग के 8 सदस्यों को गिरफ्तार कर उनसे भारी मात्रा में नशीला पाऊडर, तीन गाड़ियां व एक एक्टिवा को बरामद किया है। उक्त जानकारी आज डी.आई.जी जालंधर रेंज जसकरन सिंह ने यहां पुलिस लाईन में आयोजित एक पत्रकार सम्मेलन को संबोधित करते हुए दी। इस अवसर पर उनके साथ ज़िला पुलिस प्रमुख जे. इलनचेलियन तथा एस.पी (डी) हरप्रीत सिंह मंडेर भी थे। उन्हाेंने बताया कि थाना हरियाना के प्रभारी यादविंदर सिंह ने पुलिस पार्टी सहित ढोलवाहा के चौराहे पर नाकबंदी की हुई थी। इस दौरान एक कार वरना नंबर पीबी 10 सी.जे 4646 को रूकने का इशारा दिया तो चालक ने गाड़ी तेज कर हत्या की नीयत से पुलिस पार्टी पर चढ़ाने का प्रयास किया। इस दौरान कार अनियत्रिंत होकर झाड़ियों में जाकर रूक गई। पुलिस पार्टी ने पीछा कर चालक व उसके तीन साथियों को काबू कर उनसे पूछताछ की तो उनकी पहचान अृमित सिंह उर्फ अमृत निवासी कुंदनपुरी लुधियाना, सतनाम सिंह उर्फ करोड़ी निवासी लंगोवाल जिला संगरूर, जतिंदर सिंह उर्फ शुरू निवासी अंबगढ़ जिला जांलधर, शुभम उर्फ बंब निवासी लाडोवाल जालंधर के तौर पर की गई। उन्होंने बताया कि उक्त आरोपियों की पहचान डीएसपी स्पैशल ब्रांच हरजिंदर सिंह के देखरेख में की। पुलिस ने आरोपियों से 435 ग्राम नशीला पाऊडर एक पिस्तोल तीन जीवत कारतूस बरामद किए। कार पर लगी नंबर प्लेट जाली पाई गई। इस संबधी थाना हरियाना पुलिस ने चारों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। एक सवाल के जबाव में उन्होंने बताया कि पुछताछ के दौरान सतनाम सिंह उर्फ करोड़ी, अमृत सिंह व शुभम ने पुलिस को बताया कि उनका राजीव राजा निवासी लुधियाना जो इस समय संगरूर के जेल में बंद है के साथ फोन पर संपर्क होता रहता है। उन्होंने बताया कि काबू किया सतनाम सिंह भी संगरूर की जेल में बंद रहा है और उसकी पेशी के दौरान मुलाकात राजीव राजा के साथ होती रहती है। इसके इलावा राजीव राजा विभिन्न मोबाईल फोन से उनके साथ संपर्क में रहता है। एक अन्य सवाल के जवाब में उन्हाेंने बताया कि राजीव राजा ने उन्हे बताया था कि एनआरआई जंग निवासी कनाडा व उसके भाईयों के  साथ एक डील हुई है। उक्त लोग अपने विरोधी गुट के एक सदस्य की हत्या करवाने के लिए उसके साथ 35 लाख रूपये की डील कर पहली किशत के 10 लाख रूपये उसे दे दिए है। उन्हाेंने बताया कि 10 लाख रुपये में से सात लाख रुपये राजा का आदमी ले गया जबकि तीन लाख रुपये सतनाम शुभम और अमृत ने आपस में बांट लिए। उक्त सुपारी लेने के बाद वो लोग इलाके में रैकी करने आए थे। इनके तीन साथी चेतन शर्मा उर्फ चीनू निवासी लुधियाना हेमांक चन्द्र नगर लुधियाना, तजिंदर सिंह उर्फ हनी उर्फ भिंदा निवासी लंगोवाल जिला संगरूर अलग तौर पर एक स्कूटरी पर स्वार होकर इलाके की रैकी कर रहा था। पुलिस ने उक्त आरोपियों को विभिन्न इलाकाें से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी हेमांक से एक देसी पिस्तोल व तीन जीवत कारतूस  एक स्क्ूटरी बरामद की है। 
उन्हाेंने बताया कि पुछताछ के दौरान पता चला है कि रैकी अतिंदरपाल सिंह निवासी ढडिंयाल व हरदीप सिंह उर्फ डब्बू ने करवाई थी। पुलिस ने आरोपी अतिंदरपाल सिंह को बलीनो कार सहित अड्डा भीखेवाल से कार सहित गिरफ्तार किया है। जबकि आरोपी हरदीप सिंह डब्बू की गिरफ्तारी रहती है। एक अन्य प्रश्न के उत्तर में डीआईजी जसकरण सिंह ने बताया कि आरोपिया को अदालत में पेश कर रिमांड हासिल कर और पूछताछ की जाएगी, जिसके बाद और खुलासे भी हो सकते हैं।