वायुमंडल को भी नम रखते हैं पेड़


‘धरती पर सबसे पहले कौन पैदा हुए?’ इस संदर्भ में एक ही बात सत्य है—धरती पर सबसे पहले पेड़ ही पैदा हुए। पेड़ों ही ने धरती की ऊपरी मिट्टी को उपजाऊ बनाकर उसकी रक्षा की, उसे हवा और पानी के हमलों से बचाया...
पेड़ों का बड़ा महत्व है। जहां पेड़ होंगे वहां न अधिक सर्दी होगी न अधिक गर्मी, वहां मौसम सदा एक-सा रहेगा। वैसे पेड़ वायुमंडल को नम रखते हैं और फसलों को सूखने से बचाते है। पेड़ों की बदौलत ही हमें शुद्ध वायु मिलती है। इसके अतिरिक्त इनसे फल-फूल लकड़ी, तेल आदि भी प्राप्त होता है।
पहाड़ों पर मैदानों की ओर बहते हुए जल की तेज़धारा को पेड़ ही रोकते हैं, जिससे धरती का कटाव और नदियों में बाढ़ का आना रुकता है। मैदानी इलाकों में पेड़ ही कृषि को हवा के झोंकों से बचाते हैं।
यह सच है-जहां पेड़-पौधे नहीं होते वहां मेघ बरसते ही पानी तेज़ी से बह जाता है। वहां पानी मिट्टी को उपजाऊ बनाने के बजाए, बनी बनाई मिट्टी को बहा ले जाता है। इस तरह जब पानी को रोकने वाली कोई चीज़ नहीं होती, तो नदियों में बाढ़ आ जाती है। हमारे देश में सालों से जंगल कटते रहे हैं। इसलिए बाढ़ें अधिक आ रही हैं और उनका जोर बढ़ता जा रहा है...।
पेड़ों पर लगी या ज़मीन पर गिरी पत्तियां पानी को सोख लेती हैं। पत्तियां पेड़ों पर से झड़कर मिट्टी में मिलती रहती हैं। वे मिट्टी को उपजाऊ ही नहीं बनातीं, उसे पानी रोकने की शक्ति भी देती हैं।

— अर्चना सौगानी