पाक में सिखों के ‘जबरन धर्मांतरण’ के मुद्दे को उठाने का अमरेन्द्र ने किया आग्रह




चंडीगढ़, 19 दिसम्बर (वार्ता) : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में सिखों के ‘जबरन धर्मांतरण’ के  मुद्दे को पाकिस्तान सरकार के साथ उठाने की आज अपील की। कैप्टन सिंह ने पत्र लिखकर सिख धर्मांतरण के मामलों पर चिंता जताई है। उन्होंने कहा है कि यह सुनिश्चित करना केन्द्र सरकार की ज़िम्मेदारी है कि दुनिया के किसी भी कोने में रह रहे सिखों को किसी तरह की प्रताड़ना या इस तरह के दबाव का सामना न करना पड़े। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह मामला इसलिए भी गंभीर है कि धर्मांतरण एक सरकारी अधिकारी करवा रहा है। सिखों की पहचान की रक्षा हमारा फज़र् है चाहे वे जहां कहीं भी रह रहे हों इसलिए भारतीय अधिकारियों को मामले में हस्तक्षेप करना चाहिए ताकि इस तरह की जबरदस्ती बंद हो।
 कैप्टन सिंह ने कहा कि विदेश मंत्रालय को पाकिस्तान सरकार के साथ यह मुद्दा उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि धार्मिक स्वतंत्रता हर इंसान का अधिकार है औेर सभी देशों को मानवता के व्यापक हित में इसका बचाव करना चाहिए। उन्होंने कहा कि विदेश मंत्री का हस्तक्षेप पाकिस्तान में रह रहे सिखों के लिए सहायक सिद्ध होगा।