अमरीका ने पाक को 1626 करोड़ की सहायता रोकी




वाशिंगटन, 2 जनवरी (वार्ता): अपनी सरजमीं पर आतंकवादी नैटवर्क पर लगाम कसने में नाकाम पाकिस्तान को दी जाने वाली 25.5 करोड़ डालर की सैन्य सहायता पर अमरीका ने रोक लगा दी है। राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता ने बताया॑ वित्त वर्ष 2016 में अमरीकी कांग्रेस की ओर से पाकिस्तान के लिए मंजूर  25.5 करोड़ डालर (1626 करोड़) की सहायता राशि को खर्च करने की अमरीका की कोई योजना नहीं है।॑
प्रवक्ता ने बताया कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने स्पष्ट कर दिया है कि अमेरिका उम्मीद करता है कि पाकिस्तान को अपनी सरजमीं पर आतंकवादियों के नेटवर्क को समाप्त करने के लिए निर्णायक फैसला लेना है और दक्षिण एशिया के समर्थन में पाकिस्तान  की कार्रवाई ही अंतत: अमरीका तथा पाकिस्तान के बीच संबंधों की दिशा को तय करेगी जिसमें भविष्य में  दी जाने वाली सुरक्षा सहायता भी शामिल है।  उन्होंने कहा कि ट्रम्प प्रशासन सुरक्षा क्षेत्र में पाकिस्तान की ओर से किए जाने वाले सहयोग के स्तर की समीक्षा करता रहेगा। गौरतलब है कि सोमवार को अमरीकी राष्ट्रपति ने पाकिस्तान को दी जा रही सहायता राशि को यह कहकर रोके जाने की धमकी दी थी कि वह आतंकवादियों से निपटने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठा रहा है और अमरीका को इस सहायता के बदले पाकिस्तान की तरफ से धोखा तथा बेईमानी के अलावा कुछ नहीं मिल रहा है। इससे पहले अमरीकी प्रशासन ने पिछले वर्ष अगस्त में कहा था कि वह 2016 में अमरीकी कांग्रेस द्वारा अधिकृत 1.1 अरब डालर की राहत पैकेज सहायता के 25.5 करोड़ डालर के हिस्से पर रोक लगा रहा है। इस धनराशि पर उस समय तक रोक लगा दी गई जब तक पाकिस्तान की तरफ से आतंकवादियों के खिलाफ कोई ज़ोरदार कार्रवाई नहीं की जाती है।
इस्लामाबाद : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के आरोप का जवाब देने पर चर्चा के लिए मंत्रिमंडल और राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठकों की अध्यक्षता करेंगे। रेडियो पाकिस्तान ने बताया कि अब्बासी आज संघीय मंत्रिमंडल बैठक की अध्यक्षता करेंगे, जिसमें अन्य मुद्दों के साथ-साथ राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर भी चर्चा होगी। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बैठक में चर्चा का मुख्य विषय ट्रम्प की टिप्पणी होगी। राष्ट्रीय सुरक्षा समिति (एनएससी) की बैठक के बाद मंत्रिमंडल की बैठक होगी। प्रधानमंत्री एनएससी की बैठक की अध्यक्षता करेंगे जिसमें देश और क्षेत्र में सुरक्षा स्थिति की व्यापक समीक्षा की जाएगी।
पाक द्वारा ट्रम्प की टिप्पणी पर अमरीकी राजदूत हेल तलब
इस्लामाबाद, 2 जनवरी (भाषा) : अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के आरोपों के बाद अपना विरोध दर्ज कराने के लिए पाक में अमरीकी राजदूत डेविड हेल को तलब किया है। ट्रम्प ने पाकिस्तान पर अरबों डॉलर की विदेशी सहायता के बदले में आतंकवादियों को पनाह देकर अमरीका से झूठ बोलने और उसे धोखा देने का आरोप लगाया है। पाकिस्तानी अखबार  द एक्सप्रेस ट्रिब्यून की खबर के मुताबिक, पाकिस्तान के विदेश कार्यालय ने कल रात हेल को समन भेजा। विदेश सचिव तेहमीना जांजुआ ने ट्रम्प की टिप्पणियों को लेकर हेल से स्पष्टीकरण मांगा है।