किसान विरोधी हैं मोदी सरकार की नीतियां : यशवंत


नरसिंहपुर, 11 जनवरी (वार्ता) : पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता यशवंत सिन्हा ने आज अपनी ही पार्टी की सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि मौजूदा नरेंद्र मोदी सरकार की नीतियां किसान विरोधी हैं। मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर सिन्हा ने संवाददाताओं से कहा कि भाजपा ने जो घोषणा पत्र तैयार किया था, उसके अनुसार मोदी सरकार कार्य नहीं कर रही। उन्होंने कहा कि उस घोषणा पत्र को तैयार करने में वह स्वयं भी शरीक थे, इसलिए वे खुद को भी दोषी मानते हैं कि मोदी सरकार भाजपा के घोषणा पत्र के आधार पर किसानों को लाभ प्रदान नहीं कर रही है। मोदी सरकार की नीतियों को किसान विरोधी बताते हुए उन्होंने कहा कि भाजपा के घोषणा पत्र में किसानों को उपज से 50 प्रतिशत लाभ दिलाने की बात कही गई थी। इस मौके पर उन्होंने प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) को भी देश के लिए नुकसानदायक बताया। नरसिंहपुर ज़िले के किसानों का खुलेआम शोषण होने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि किसानों को गन्ने का उचित मूल्य नहीं मिल रहा। उनके साथ मौजूद पूर्व केंद्रीय मंत्री सोमपाल शास्त्री ने श्री सिन्हा की बात का समर्थन करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में शुगर रिकवरी 9.5 होने पर किसानों को 350 रुपए प्रति क्विंटल गन्ना का दाम दिया जा रहा है, वहीं यहां रिकवरी 11.5 से ज्यादा होने  पर सिर्फ 300 रुपए के भाव से गन्ना खरीदा जा रहा है।