रोपड़ थर्मल संघर्ष कमेटी द्वारा सरकार विरुद्ध प्रदर्शन



घनौली, 16 जनवरी (अ.स.) : पंजाब सरकार द्वारा गुरु गोबिंद सिंह सुपर थर्मल प्लांट रूपनगर के दो यूनिटों और गुरु नानक देव थर्मल प्लांट बठिंडा के सभी यूनिटों को पक्के तौर पर बंद करने के फैसले के विरोध में थर्मल कर्मियों का रोष दिन-प्रतिदिन बढ़ रहा है। रोपड़ थर्मल संघर्ष कमेटी के पदाधिकारी सुखदेव सिंह, हरमेश सिंह धीमान, राजकुमार तिवाड़ी, कंवलजीत सिंह, भाग चंद शर्मा, जसपाल सिंह, कमलजीत सिंह, जसपाल सिंह, वरियाम सिंह छज्जा, रणजीत सिंह नीलों, अमरजीत सिंह, कुलदीप सिंह, प्रभात शर्मा, राम सिंह, अमरजीत सिंह, भाग सिंह आदि के नेतृत्व में आज गुरु गोबिंद सिंह सुपर थर्मल प्लांट के मेन गेट पर ज़ोरदार रोष प्रदर्शन किया गया। इस रोष रैली को संबोधित करते हुए नेताओं ने कहा कि रोपड़ थर्मल संघर्ष कमेटी के निमंत्रण पर 3 जनवरी को मार्कफैड ग्राऊंड ज्ञानी जैल सिंह नगर रूपनगर में विशाल रोष धरना दिया गया था। इस रोष धरने के मौके विधानसभा पंजाब के स्पीकर राणा के.पी. सिंह द्वारा संघर्ष कमेटी से मांग पत्र हासिल किया था और यह आश्वासन दिया गया था कि 10 दिनों के अंदर-अंदर वह मुख्यमंत्री और बिजली मंत्री पंजाब से कमेटी को बैठक में इस मसले का सार्थक हल निकालेंगे। परंतु पंजाब सरकार द्वारा लारेबाज़ी वाली नीति अपनाते हुए आज तक संघर्ष कमेटी को कोई भी बैठक में नहीं बुलाया गया। इस रोष तहत संघर्ष कमेटी को अगले संघर्ष के लिए मजबूर होना पड़ रहा है, जिसके तहत 19 जनवरी को रेलवे स्टेशन रूपनगर से ज्ञानी जैल सिंह नगर स्थित राणा के.पी. सिंह की रिहायश तक रोष मार्च किया जाएगा। 1 फरवरी को कैबिनेट मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी की खरड़ में रिहायश पर रोष मार्च किया जाएगा।