‘आप’ पंजाब में कानून का राज स्थापित करेगी : छोटेपुर चुनाव में पंजाब विरोधी व हितैषियों के बीच सीधी लड़ाई होगी : बादल


बाबा बकाला/ अमृतसर, 18 अगस्त (अ.स.): राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल सहित राष्ट्रीय कमान के नेताओं की गैरमौजूदगी में ‘आप’ (आम आदमी पार्टी) द्वारा रखी गई सियासी कान्फ्रैंस में प्रदेश कन्वीनर सुच्चा सिंह छोटेपुर ने कहा कि आज पंजाब में जंगल राज है, इस समय पंजाब में 55 गैंगस्टर हैं जिन्हें राजनीतिक संरक्षण प्राप्त है। रोज़ाना पंजाब में कत्लेआम हो रहा है, परंतु कोई आरोपी नहीं पकड़े जा रहे। हम वादा करते हैं कि हमारी सरकार बनने पर कानून का राज स्थापित होगा। उन्होंने कहा कि माता चंद कौर व आरएसएस के जगदीश गगनेजा को गोली मारने वाले आरोपी व बरगाड़ी कांड के आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। सांसद भगवंत मान ने अकाली-भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उन्होंने पंजाब को लूटकर खा लिया है। उन्होंने जेलों, विधवा आश्रम व अमृतसर मनोरोग अस्पताल भी गिरवी रख दिया है। उन्होंने कहा कि मैंने जो वीडियो फिल्म बनाई थी, सभी राजनीतिक पार्टियों वाले मेरे पीछे हाथ धो पड़ गये। हरसिमरत कौर बादल ने मांग की कि मान को बर्खास्त करो, लेकिन मैंने कहा कि मुझे बर्खास्त नहीं, बर्दाश्त करो। उन्होंने दावे के साथ कहा  कि 2017 में ‘आप’ 117 सीटों पर जीत प्राप्त करेगी। इस अवसर पर गुरप्रीत घुग्गी ने भी रैली को सम्बोधित किया और अकाली-भाजपा सरकार की नीतियों की निंदा करते हुए कहा कि लोग अब इनके झांसे में आने वाले नहीं। वह 2017 में ‘आप’ पार्टी की सरकार बनाने के लिए उतावले हैं। कांग्रेस से आए ‘आप’ नेता सुखपाल सिंह खैहरा ने सुखबीर सिंह बादल, बिक्रम सिंह मजीठिया, प्रो. विरसा सिंह वल्टोहा व आदेश प्रताप सिंह कैरों को आड़े हाथों लेते हुए कथित अकाली करार दिया। उन्होंने कहा कि शिरोमणि कमेटी पर बादल परिवार का कब्ज़ा है। इस अवसर पर प्रो. बलजिंदर कौर, कैप्टन बलबीर सिंह बाठ पूर्व विधायक, करतार सिंह पहलवान, इंद्रजीत सिंह बासरके, मनविंदर सिंह सिद्धू, सरपंच परमिंदरजीत सिंह, बलजीत सिंह भट्टी, सुखदेव सिंह वडाला, दलबीर सिंह बाबा बकाला साहिब, कंवलजीत सिंह ब्यास, सरवण सिंह सम्मा कलेर आदि उपस्थित थे।बाबा बकाला/ अमृतसर, 18 अगस्त (राजेश कुमार/मनबीर सिंह) :आगामी विधानसभा चुनाव में पंजाब हितैषी व पंजाब विरोधी ताकतों के बीच सीधी लड़ाई बताते पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने आज इन विरोधी ताकतों को करारी हार देने के लिए लोगों को शिरोमणि अकाली दल का साथ देने का आह्वान किया है। आज यहां रक्खड़ पुनिया के मौके पर राजनीति कांफ्रैंस दौरान संबोधित करते मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी चुनाव राज्य के भविष्य को तय करेंगे क्योंकि इसे राज्य के हितैषियों व दुश्मनों बीच निर्णायक लड़ाई के रूप में देखा जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने राज्य से उसका पानी छीनने के लिए एस वाई एल नहर खोदने की साज़िश रची। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के नेता लोगों को हसीन सपने दिखा रहे हैं परंतु असल में वह इनमें से किसी एक को भी पूरा नहीं करेंगे। बादल ने कहा कि आप के नेता आरंभ से पंजाब के दुश्मन हैं और लोगों को उन पर बिल्कुल भी विश्वास नहीं करना चाहिए। उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि राज्य में अकाली-भाजपा गठजोड़ के पक्ष में एक बड़ी लहर चल रही है और अकाली दल की इस सुनामी के आगे कांग्रेस और आप कहीं भी टिक नहीं पाएगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला करते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि केजरीवाल केवल केंद्र सरकार से लड़ने के लिए पंजाब की सत्ता पर काबिज होना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि यदि आप पंजाब में सत्ता में आती है तो यह राज्य के लिए बहुत दुर्भाग्यपूर्ण होगा क्योंकि इससे केंद्र एवं राज्य सरकार के बीच टकराव बढ़ेगा। कैप्टन अमरेन्द्र सिंह पर तीखा हमला करते हुये उपमुख्यमंत्री ने कहा कि अमृतसर से लोकसभा सदस्य गठजोड़ को मिल रहे लोगों के भरपूर समर्थन के कारण बुरी तरह निराश हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि इसी कारण कैप्टन मैदान से भागने के लिए तैयार है। इस अवसर पर संबोधित करते हुए राजस्व और लोक संपर्क मंत्री स. बिक्रम सिंह मजीठिया ने कांग्रेस और आम आदमी पार्टी की तीखी आलोचना की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने हमारे धार्मिक स्थानों पर हमले करके सिख मानसिकता को घायल किया है और आम आदमी पार्टी भी कांग्रेस के कदमों पर चल रही है। इस अवसर पर लोकसभा सदस्य जत्थेदार रणजीत सिंह ब्रहमपुरा, कैबिनेट मंत्री गुलजार सिंह रणीके, राज्यसभा सदस्य श्वेत मलिक तथा अन्यों ने भी कान्फ्रैस को संबोधित किया।  इस अवसर पर विधायक बीबी जागीर कौर, मंजीत सिंह मिंयाविंड, रविंदर सिंह ब्रहमपुरा, प्रो. विरसा सिंह वलटोहा, देस राज धुग्गा, बलजीत सिंह जलाल उस्मा, गुरचरण सिंह बब्बेहाली, उप मुख्यमंत्री के ओएसडी परमिंदर सिंह बराड़, पूर्व विधायक नेता सुच्चा सिंह लंगाह, लखबीर सिंह लोधीनंगल, पंजाब राज्य ट्यूबवैल कार्पोरेशन के चेयरमैन रविकरन सिंह काहलों आदि उपस्थित थे।