महेन्द्रपाल बिट्टू के बाद 6 अन्य डेरा प्रेमी गिरफ्तार



मोगा, 12 जून (अ.स.) : आज मोगा पुलिस द्वारा भारी सुरक्षा प्रबन्धों में महेन्द्रपाल बिट्टू की निशान देही पर 6 डेरा प्रेमियों को गिरफ्तार करके मोगा पुलिस ने जुडीशियल मजिस्ट्रेट बिक्रमजीस सिंह की अदालत में पेश किये, जहां पुलिस ने डेरा प्रेमियों का 5 दिन का पुलिस रिमांड हासिल कर लिया है। जानकारी के अनुसार 7 मार्च 2011 को कोटकपूरा बाईपास पर बने नाम-चर्चा घर के पास 300 के लगभग डेरा प्रेमियों के समर्थकों ने जाम लगा कर सरकारी बसों की बुरी तरह से तोड़-फोड़ की थी और उस समय पुलिस ने अज्ञात लोगों पर धारा 283, 353, 386, 427, 323, 436, 148, 149, 120 बी. आई.पी.एस. के तहत थाना सिटी-1 में मामला दर्ज किया गया था। श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की बेदबी की हुई घटनाओं सम्बन्धी पुलिस ने जांच कमेटियां बनाई थीं ताकि इस मामले में मोगा पुलिस ने सुखजिन्द्र सिंह उर्फ सन्नी पुत्र हरजीत सिंह वासी कोटकपूरा, रणदीप सिंह उर्फ नीला पुत्र ओम प्रकाश वासी फरीदकोट, शक्ति सिंह पुत्र बसंत सिंह वासी डग्गोरुमाणा (फरीदकोट), बलजीत सिंह पुत्र जगजीत सिंह वासी सिखों वाला (कोटकपूरा), रणजीत सिंह भोला पुत्र मोहन सिंह वासी कोटकपूरा को गिरफ्तार करके आज अदालत में पेश किया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उपरोक्त आरोपियों के तार बरगाड़ी कांड और वाड़ा जवाहर सिंह वाला में हुई साहिब श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी की बीड़ चोरी की घटनाओं के साथ भी जुड़ी हुई है परन्तु 5 दिन के पुलिस रिमांड में पुलिस उपरोक्त आरोपियों से गम्भीरता से पूछ-ताछ करेगी और वर्णनीय है कि उक्त आरोपियों से लाईसैंसी हथियार बरामद किए गए हैं। आरोपी रणजीत सिंह से एक रिवालवर 32 बोर सहित 30 रौंद, आरोपी शक्ति सिंह से एक 12 बोर डबल बैरल बंदूक सहित 8 कारतूस, आरोपी बलजीत सिंह से 32 बोर रिवालवर 6 रौंद, आरोपी निशान सिंह से डबल बैरल बंदूक 12 कारतूस भी पुलिस द्वारा बरामद किए गए हैं और उन पर एक्ट 1984, 25/27/54/59 अमला आर्म एक्ट बढ़ाया गया है।