मुख्यमंत्री, विधायक और पार्टी के प्रधानों को डोप टेस्ट में किया जाना चाहिए शामिल - एसके खैहरा


चंडीगढ़, 5 जुलाई - बीते दिन राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की तरफ से पुलिस कर्मचारियों समेत सभी सरकारी कर्मचारियों का डोप टेस्ट अनिवार्य करवाने के आदेश दिए गए हैं। इस पर सिविल सचिवालय एसोसिएशन के प्रधान एसके खैहरा ने कहा कि हमें डोप टेस्ट करवाने से कोई ऐतराज़ नहीं है। इसके साथ ही उन्होंने मांग करते हुए कहा है कि सरकार की तरफ से जारी की गई डोप टेस्ट की इस नोटिफिकेशन में मुख्यमंत्री, मंत्री, विधायक, पार्टी के प्रधान और उनके वर्करों को भी शामिल किया जाना चाहिए। उन्होंने सरकार पर सवाल करते हुए कहा कि उनको क्यों इस टेस्ट से बाहर निकाला गया है।