विकास परियोजनाओं हेतु एडीबी 5598 करोड़ का ऋण प्रदान करेगा : सिद्धू


नई दिल्ली, 5 जुलाई (भाषा): एशियाई विकास बैंक (एडीबी) विभिन्न शहरी विकास परियोजनाओं के लिए पंजाब को मामूली ब्याज दर पर 5,598 करोड़ रुपये का ऋण प्रदान करने के लिए सैद्धांतिक रूप से सहमत हो गया है। एक सरकारी बयान में यह जानकारी दी। पंजाब के स्थानीय निकाय और पर्यटन मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने एशियाई विकास बैंक के भारत परिचालन के प्रमुख केनिची योकॉयामा से मुलाकात की, जिसमें स्मार्ट सिटी मिशन और कायाकल्प और शहरी रूपांतरण के लिए अटल मिशन (अमृत) के तहत दूषित जल शोधन संयंत्र को बहाल करने जैसी विभिन्न परियोजनाओं के लिए वित्तीय सहायता की मांग की। बयान में कहा गया है कि इन परियोजनाओं के प्रारूप को अंतिम रूप देने के लिए जुलाई के मध्य में एडीबी का एक मिशन पंजाब का दौरा करेगा। विवरण देते हुए मंत्री ने कहा कि स्मार्ट सिटी परियोजना 2,943 करोड़ रुपये की है, जिसमें एडीबी 1,606 करोड़ रुपए का योगदान देगा तथा केन्द्रीय और पंजाब सरकारें 1,337 करोड़ रुपए का योगदान देंगी। परियोजना पंजाब के तीन बड़े शहरों-लुधियाना, अमृतसर और जालन्धर को बुनियादी ढांचे, शहरी परिवहन प्रणाली, जल शोधन और स्वच्छता मोर्चों पर पूरी तरह से बदल देगा। इसी तरह अमृत के तहत, 2,426 करोड़ रुपए की एक परियोजना तैयार की गई है जिसमें एडीबी का योगदान 1,387 करोड़ रुपए का होगा तथा केन्द्र एवं पंजाब सरकारों का योगदान 1,039 करोड़ रुपए का होगा। मंत्री ने कहा कि पंजाब में निष्क्रिय दूषित जल शोधन (एसटीपी) को चलाने और फिर से स्थापित करने के लिए,एडीबी 209 करोड़ रुपए की सहायता प्रदान करेगा। सिद्धू ने कहा कि मुख्यमंत्री ने पटियाला शहर के निवासियों को नहर के स्वच्छ पेयजल प्रदान करने की योजना बनाई है और एडीबी की 699.18 करोड़ रुपए की एक परियोजना इसे वास्तविकता में बदलने के लिए तैयार की गई है। परियोजना को अंतिम रूप देने के लिए,एडीबी का एक प्रतिनिधिमंडल 16 जुलाई को पंजाब का दौरा करेगा। मंत्री ने कहा कि यह राज्य सरकार का लक्ष्य है कि लोगों को नहर के स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराया जाए और सीवरेज उपचार संयंत्रों द्वारा संशोधित पानी का उपयोग फसलों की सिंचाई के लिए दिया जाए। पर्यटन के बारे में मंत्री ने कहा कि विभाग ने पंजाब के धार्मिक, ऐतिहासिक और पर्यटन स्थलों सहित कई पर्यटक सर्किट तैयार किए हैं। उन्होंने कहा कि एडीबी ने पहले ही 340 करोड़ रुपए का ऋण मंजूर कर दिया है।