क्रोएशियाई डिफेंडर विडा ने यूक्रेन के ज़िक्र पर मांगी माफी


मॉस्को, 12 जुलाई (वार्ता) : क्रोएशियाई डिफेंडर डोमागोज विडा ने फीफा विश्वकप सेमीफाइनल में जीतने के बाद टूर्नामेंट के मेज़बान रूस के पड़ोसी यूक्रेन के समर्थन में अपनी पूर्व में की गयी टिप्पणी‘ग्लोरी टू यूक्रेन’के लिये माफी मांगी है। क्रोएशिया ने इंग्लैंड को 2-1 से हराकर विश्वकप फाइनल में जगह बनाई है। क्रोएशिया के सेंटर बैक ने एक सप्ताह पूर्व सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया था जिसमें उन्होंने कहा था, ‘ग्लोरी टू यूक्रेन।’दरअसल विडा यूक्रेन के क्लब डायनामोज़ कीव के लिये खेला करते थे। रूस की मेजबानी में हो रहे 21वें फीफा विश्वकप के दौरान बुधवार को मॉस्को में जब क्रोएशिया और इंग्लैंड की टीमें सेमीफाइनल मैच के लिये उतरीं तो स्टेडियम में बैठे प्रशंसकों ने क्रोएशिया के सेंटर बैक की इस टिप्पणी पर नाराजगी जताते हुये उनके खिलाफ हूटिंग शुरू कर दी। इंग्लैंड के खिलाफ क्रोएशिया की जीत के बाद विडा ने एक टीवी चैनल पर दिये साक्षात्कार में कहा॑ मैं जानता हूं, मैंने गलती की है और मैं रूसी लोगों से दोबारा अपनी इस गलती के लिये माफी मांगता हूं।  मुझे माफ कर दें, यह जीवन है और आप अपनी गलतियों से ही सीखते हैं। वर्ष 2014 में यूक्रेन के हिस्से क्रीमिया के अलग होने में रूस की भूमिका रही थी और उसने पूर्वी यूक्रेन में रूसी समर्थकों को भी अपना समर्थन दिया था, जिसके बाद से दोनों पड़ोसियों के रिश्तों में कड़वाहक आ गयी है।