बायोपिक से दूरी ही सही वरुण धवन


‘जुड़वा 2’ से बॉलीवुड में प्रसिद्ध हुए वरुण धवन की हवा आजकल कुछ बदली-बदली सी नज़र आती है। जब से वह लाइम लाइट का हिस्सा बने हैं, वरुण ने तो अपना अंदाज़ ही बदल डाला है। प्रसिद्ध होने के बाद जब फिल्म की लाइनें लगती हैं तो एक स्टार को ऐसे लगने लगता है जैसे सिर्फ इंडस्ट्री में वही रह गया है। कोई और मल्टी स्टार है ही नहीं उसके अलावा। यही हाल आजकल नई पीढ़ी के स्टार वरुण धवन का है। उनको फिल्मों के ऑफर तो आ रहे हैं वो भी बायोपिक फिल्मों के। लेकिन जनाब हैं कि हां करने को तैयार ही नहीं हैं, क्योंकि वरुण को लगता है कि ये बायोपिक उनके लिए नहीं हैं। वरुण का बायोपिक से मेरी दूरी ही सही है। मुझे फिक्शनल कैरेक्टर्स ज्यादा पसंद आते हैं। यदि मुझे बायोपिक का कोई ऑफर आता है तो मैं न कर देता हूं। क्योंकि जिसकी बायोपिक में मैं काम करूंगा मुझे लगता है कि वह अपने आप में एक महान् नायक होंगे। शायद मैं कर भी न पाऊं। सलमान का करैक्टर सिर्फ सलमान को अच्छा लगता है मैं तो ऐसे ही थोड़ा बहुत कर लेता हूं।