ट्रांसपोर्टरों द्वारा देशव्यापी चक्का जाम कल से



एस. ए. एस. नगर, 18 जुलाई (के. एस. राणा): आल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस द्वारा सरकार की लोक मारू नीतियों खिलाफ 20 जुलाई से अनिश्चित समय के लिए देश व्यापी चक्का जाम करने की घोषणा करने पश्चात पंजाब के समूह ट्रक आप्रेटरों द्वारा राज्य के समूह ट्रक आप्रेटरों को लामबंद करने के लिए बैठकों का सिलसिला तेज़ कर दिया गया है। इस सबंधी एसएएस नगर में किए एकत्र को संबोधित करते हुए आल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट के सदस्य कामरेड प्रेम सिंह बनूड़ ने कहा कि इस सबंधी पंजाब के समूह ट्रक आप्रेटर इस हड़ताल में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा पहले से ही मंदहाली का शिकार ट्रांसपोर्टरों को अनदेखा करने के अलावा उन पर प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष ढंग के साथ जहां आर्थिक बोझ डाला जा रहा है, वहीं मोटर व्हीकल एक्ट में अनावश्यक प्रतिबंध लगाकर उनके रोज़गार को बुरी तरह प्रभावित किया जा रहा है। उन्होंने अपनी मांगों का ज़िक्र करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार अन्य वस्तुओं की तरह डीज़ल को भी जीएसटी के घेरे में लाए ताकि पैट्रोलियम वस्तुओं में लगातार हो रही वृद्धि को काबू किया जा सके। उन्होंने कहा कि भारत के मुकाबले छोटे-छोटे देशों में पैट्रोलियम वस्तुओं के मूल्य काफी कम है। इसी तरह पूरे देश में ट्रांसपोर्टरों को टोल फ्री किया जाए क्योंकि ट्रांसपोर्टर रोड़ टैक्स अदा कर रहे हैं और टोल बैरियरों पर अपनी बारी का इंतजार करने समय उनको कई हज़ार करोड़ रुपए का डीज़ल/पैट्रोल बर्बाद करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि रोड़ टैक्स लेने के पश्चात सरकार की ड्यूटी बनती है कि वह ट्रांसपोर्टरों को बढ़िया सड़कें उपलब्ध करवाए। उन्होंने थर्ड पार्टी इशोरेंस में अंधाधुंध हो रही वृद्धि सबंधी कहा कि यह निज़ी कम्पनियों द्वारा मनमज़र्ी के मूल्य तय करके लोगों की लूट की जा रही है। इस लिए केन्द्र सरकार इस पर खुद कंट्रोल करते हुए थर्ड पार्टी इशोरेंस के कम से कम मूल्य तय करे। इस अवसर पर अन्यों के अलावा आल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्टर कमेटी के मैनेज़िंग सदस्य अमराओ सिंह, जगतार सिंह सैनी, मनिंद्र सिंह अध्यक्ष ट्रक यूनियन मोहाली, राजपाल सिंह चेयरमैन सहित भारी संख्या ट्रांसपोर्टरों ने 20 जुलाई से अनिश्चित समय की हड़ताल का समर्थन करते हुए कहा कि वे मांगों की पूर्ति तक संघर्ष को जारी रखेंगे।