ताइक्वांडो कोच पर नाबालिग शिष्या से दुष्कर्म की कोशिश का आरोप, गिरफ्तार


मुरैना (मध्य प्रदेश), 23 अक्तूबर (भाषा) : मुरैना के एक ताइक्वांडो कोच तथा राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी मनोज शिवहरे (35) को अपनी एक नाबालिग शिष्या, ताइक्वांडो खिलाड़ी के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म की कोशिश करने के आरोप में सोमवार की रात को गिरफ्तार किया गया है। कोतवाली थाना प्रभारी अतुल सिंह ने मंगलवार को बताया कि कोच मनोज शिवहरे गत 17 अक्तूबर को अपनी ताइक्वांडो टीम को साथ लेकर ओपन टूर्नामैंट खेलने के लिए पुणे गया था। उसके साथ गए खिलाड़ियों में 15 वर्षीय शिष्या भी थी। उन्होंने बताया कि पुणे में सभी लोग एक होटल में रूके। कोच शिवहरे ने 18 अक्तूबर की रात नाबालिग खिलाड़ी के कमरे में प्रवेश किया, जिसमें वह रुकी थी। शिवहरे ने वहां उसके साथ छेड़खानी, अश्लील हरकत एवं दुष्कर्म करने का प्रयास किया। पीड़ित ने उसका विरोध किया और चीख पुकार मचाई, जिससे शिवहरे वहां से चला गया। सिंह ने कहा कि पीड़ित लड़की ने इस टूर्नामैंट में गोल्ड मैडल जीता था। उन्होंने बताया कि पीड़ित ने घर आकर यह घटनाक्रम अपनी मां को बताया तथा पुणे में विजेता खिलाड़ियों के लिए यहां सोमवार को हुए कार्यक्रम में जाने से इंकार कर दिया। पीड़ित एवं उसकी मां ने सोमवार की शाम को ही कोतवाली पुलिस, मुरैना में घटना को लेकर शिकायत दर्ज कराई। सिंह ने बताया कि शिकायत के आधार पर आरोपी कोच के विरुद्ध दुष्कर्म के प्रयास तथा पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है।