पॉलीवुड के स्टार कलाकार बनेंगे टीटू बानिया


शौक अमीर-गरीब कहां देखते हैं बसों-गाड़ियों में चीज़ों को बेचने वाले टीटू बानिया ने भी यह बात साबित कर दिखाई। कामेडी उनकी लाजवाब और शौक का मूल्य पड़ा, टैली और डी.वी.डी. फिल्मों से। ‘पंगेबाज़ बानिया’, ‘स्वयंवर टीटू का’ की सफलता ने उनका चेहरा जाना-पहचाना बना दिया। इसी तरह टैलीविज़न की दुनिया और वीडियो गीतों ने उनके हालात भी अच्छे कर दिए। वह प्रसिद्ध सितारों की श्रेणी में आ गए। ‘आज दा दारा’ ने तो उनको दूसरा ‘मेहर मित्तल’ कहलाना शुरू कर दिया हालांकि ‘मेहर मित्तल’ उनके लिए गुरु समान है। दूरदर्शन जालन्धर डी.डी. पंजाबी ने और पी.टी.सी. ने टीटू बानिया की धमक को कनाडा तक पहुंचाया। कनाडा में भी उनके कई शो सफल रहे। ‘दिल्ली से लाहौर’ फिल्म ने पॉलीवुड में उनका प्रवेश करवाया। अभी उनकी फिल्म ‘अफसर’ जोकि तरसेम जसड़ के साथ आई थी उसमें भी उन्होंने अच्छा अभिनय किया। बॉलीवुड में भी प्रवेश ‘हीरोपंती’ फिल्म के साथ किया। इसी प्रकार फिल्मों के लिए अब वह पूरी तरह सक्रिय हैं।

           -अमृत पवार