यमन को दी जाने वाली खाद्य सहायता को दोगुणा करेगा संयुक्त राष्ट्र


जिनेवा, 9 नवंबर (एजेंसी) : संयुक्त राष्ट्र के विश्व खाद्य कार्यक्रम (डब्ल्यूएफपी) ने कहा कि यमन में पहुंचाई जाने वाली खाद्य सामग्री सहायता को वह इस महीने दोगुना करेगा जिससे कि यह मदद 1.4 करोड़ लोगों तक पहुंच सके। यह संख्या युद्ध-ग्रस्त देश की कुल आबादी की लगभग आधी है। यमन इस समय दुनिया के सबसे बुरे खाद्य संकट से जूझ रहा है, जहां सऊदी अरब के नेतृत्व वाले गठबंधन के समर्थक सरकारी सैनिक हूथी विद्रोहियों से लड़ रहे हैं। बुधवार को, 35 यमनी और अंतर्राष्ट्रीय गैर सरकारी संगठनों ने इस संकटग्रस्त देश में तत्काल युद्ध विराम की मांग की थी और कहा कि 1.4 करोड़ लोग ‘भुखमरी की कगार पर’ खड़े हैं। जिनेवा में संस्थान के प्रवक्ता हर्वे वरहूसेल ने गुरुवार को बताया कि, ‘डब्ल्यूएफपी प्रतिदिन करीब सत्तर से अस्सी लाख लोगों को भोजन सामग्री उपलब्ध करा रहा है, लेकिन स्थिति बहुत भयावह हो गई है जिसे देखते हुए डब्ल्यूएफपी इस सहायता को बढ़ाने की तैयारी कर रहा है।’