बरगाड़ी मोर्चे की समाप्ति के ऐलान पर भाई हवारा ने लिखा पत्र 


चंडीगढ़, 19 दिसंबर - (अजायब सिंह औजला) - तिहाड़ जेल दिल्ली में बंद भाई जगतार सिंह हवारा का एक पत्र आज चंडीगढ़ में एडवोकेट अमर सिंह चाहल की ओर से पत्रकारों को सौंपा गया। इसमें भाई जगतार सिंह हवारा ने लिखा है कि बरगाड़ी मोर्चे संबंधी आपसी दूषणबाजी न की जाये। पत्र में यह भी कहा गया है कि पिछले दिनों के घटनाक्रम से पंथक सफ़ा में बेचैनी भी पैदा हुई है और बरगाड़ी मोर्चे की समाप्ति के ऐलान के बाद सिक्ख संगत में निराशा भी है। पत्र में भाई जगतार सिंह हवारा ने यह भी लिखा है कि मैं एक बात कड़े  शब्दों में कहना चाहूँगा कि अब आगे से किसी भी संघर्ष को चलाने और फैसला करने का अधिकार किसी एक व्यक्ति के हाथ में देने की बजाय सिख परंपरा के अनुसार गुरमता करके ही कोई फैसला लिया जाये। पत्र में यह भी लिखा गया है कि पांच सदस्यीय कमेटी जल्द ही कायम की जायेगी। इस कमेटी की सहमति के बिना अगले संगर्ष की रूप-रेखा न बनायी जाये।