किसानों द्वारा चीनी मिल प्रबंधकों के खिलाफ आर-पार की लड़ाई की घोषणा


पुराना शाला, 11 फरवरी (अ.स.): विभिन्ल चीनी मिलों की ओर 2017-18 गन्ना सीज़न के दौरान गन्ना काश्तकारों की फंसी पिछली करोड़ों रुपए की बकाया राशि व चालू गन्ना पिड़ाई सीज़न की बकाया राशि के समय पर न मिलने के कारण आर्थिक परेशनियों से जूझ रहे किसानों द्वारा अब निर्धारित समय के लिए चीनी मिल प्रबंधकों के खिलाफ आंदोलन शुरू करने की घोषणा कर दी है। इस संबंधी गांव भैणी मीलमों के किसान हरपाल सिंह, कंवलजीत सिंह, सतनाम सिंह, बीर सिंह व सर्बदयाल सिंह ने कहा कि गन्ना काश्तकारों की करोड़ों रुपए की पिछली अदायगियों को लेकर किसान संगठनों द्वारा पिछले समय में चलते संघर्ष को विश्राम देने की खातिर चीनी मिल प्रबंधकों से पंजाब सरकार द्वारा किसानों  को 75 दिनों के भीतर अदायगियों का भुगतान कर देने का वादा किया गया था परंतु 150 दिन बीत जाने के बावजूद भी पुरानी अदायगियां न होने के साथ-साथ चालू गन्ना सीज़न की नई अदायगियां भी 14 दिनों के निर्धारित समय के अंदर न होने के रोषस्वरूप बेट क्षेत्र के विभिन्न किसान संगठनों के सहयोग से चीनी मिल मुकेरियां के सामने 15 फरवरी से अनिश्चितकालीन धरने के रूप में आंदोलन शुरू करने जा रहे हैं।