पाक से धन लेने वालों को हासिल सुरक्षा की समीक्षा करेंगे : राजनाथ


श्रीनगर, 15 फरवरी (वार्ता) : केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को ऐलान किया कि जम्मू-कश्मीर में गड़बड़ी फैलाने के लिए पाकिस्तान और उसकी खुफिया एजैंसी आईएसआई से धन हासिल करने वाले सभी लोगों को प्रदान की जा रही सुरक्षा की समीक्षा की जाएगी। श्री सिंह ने यहां एक उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता करने के बाद कहा कि सुरक्षा बलों का मनोबल काफी ऊंचा है। सुरक्षा बल किसी भी परिस्थिति का जवाब देने को भी पूरी तरह तैयार हैं। श्री सिंह परोक्ष रूप से अलगाववादी और उन नेताओं पर निशाना साध रहे थे जिन्हें कश्मीर घाटी में सुरक्षा हासिल है। अलगाववादियों पर पाकिस्तान और आईएसआई से धन लेकर घाटी में गड़बड़ी फैलाने के आरोप लगते रहे हैं। शहीद जवानों को राजनाथ ने दिया कंधा : केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पुलवामा फिदायीन हमले में मारे गये केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के शहीद 37 जवानों में से एक को शुक्रवार को अपना कंधा देने के बाद यहां उच्च स्तरीय सुरक्षा बैठक की। श्री सिंह गुरुवार को श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर गुरुवार को हुए हमले के सिलसिले में राज्य के दो दिवसीय दौरे पर आज कश्मीर घाटी में पहुंचे। उन्होंने बडगाम कैंप के हुमहामा में एक शहीद जवान के पार्थिव शरीर को अपना कंधा दिया। गृह मंत्री ने बाद में एकीकृत कमान बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक में राज्यपाल सत्यपाल मलिक तथा सेना, अर्द्धसैनिक बलों और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। श्री सिंह ने बैठक में राज्य की मौजूदा सुरक्षा व्यवस्था का भी जायज़ा लिया।