बड़े किसान जिम्मेदारी समझ बिजली की छोड़े सब्सिडी : कांगड़ 


बठिंडा/रामपुरा फूल, 9 जून ( जगवंत बांसल): बिजली व ऊर्जा मंत्री पंजाब श्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ ने बड़े किसानों से अनुरोध किया है कि वे नैतिकता के आधार पर अपनी बिजली की सब्सिडी छोड़े जिससे पंजाब सरकार की तरफ  से दी जा रही निशुल्क बिजली की सुविधा सही विधि से छोटे किसानों तक पहुंचाई जाए। संगत दर्शन के दौरान पत्रकारों के साथ बातचीत करते उन्होंने कहा कि किसानों से अनुरोध है कि वे 20 जून से पहले धान की फ सल न लगाएं। यह न सिर्फ  धरती के निचले सतह के पानी का बचाव करेगा बल्कि किसानों की धान की फ सल के समय पर बरसाती पानी मिलने कारण बढ़िया पैदावार भी देगा। उन्होंने कहा कि जो भी किसान 20 जून, 2018 से पहले धान की फ सल लगाएगा उसके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पत्रकारों के सवालों के जवाब देते श्री कांगड़ ने कहा कि कैप्टन अमरेंद्र सिंह के नेतृत्व में पंजाब सरकार ने हमेशा ही गुरु घरों को प्रथमिकता दी है। अपने गत काल की सेवाकाल में कैप्टन अमरेंद्र सिंह की सरकार ने गुरु घरों को सेल्ज टैक्स से छूट दी थी। इस बार जीएसटी से भी सभी धर्मों व पवित्र स्थानों को छूट दी है। कैप्टन अमरेंद्र सिंह के इस प्रयासों के आधार पर अब केंद्र सरकार ने भी जीएसटी माफ  किया है। धान के सीजन सम्बन्धित पावरकॉम द्वारा की जा रही तैयारियों का विवरण देते उन्होंने बताया कि किसानों को 8 घंटे निर्विघ्न बिजली की सप्लाई दी जाएगी। उन्होंने  बताया कि पावरकॉम द्वारा विभिन्न बिजली के फ ीडरों को आपस में जोड़ने का काम किया जा रहा है। जिस से भविष्य में किसी भी गांव में बिजली की समस्या से सम्बन्धित कोई परेशानी न आए। इस अवसर पर श्री कांगड़ ने रामपुरा हलका के लोगों की समस्याएं सुनी और हल की। उनके साथ पीएसओ श्री सुखजीत सिंह, प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस अधिकारी भी मौजूद थे।