डेरा प्रमुख को हो सकती है उम्रकैद या फांसी की सजा? 


चंडीगढ़, 11 जनवरी ( राम सिंह बराड़):  डेरा प्रमुख को पत्रकार छत्रपति हत्या के मामले में दोषी करार दिए जाने के बाद सीबीआई के वकील ने अजीत के साथ विशेष बातचीत में बताया कि इस तरह के हत्या के मामलों में कम से कम सजा उम्र कैद और ज्यादा से ज्यादा फांसी का प्रावधान है। सजा की मात्रा पर 17 जनवरी को ही बहस होगी और उसी दिन सजा सुनाई जाएगी।