गृहमंत्री अमित शाह ने 'वंदे भारत एक्सप्रेस' को दिखाई हरी झंडी 


नई दिल्ली, 3 अक्तूबर (उपमा डागा पारथ, एजेंसी) : गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली से जम्मू-कश्मीर स्थित श्री माता वैष्णों देवी कटरा के बीच चलने वाली देश की दूसरी सेमीहाईस्पीड ट्रेन वन्दे भारत एक्सप्रैस का आज नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर हरी झंडी दिखा कर शुभारंभ किया और कहा कि यह स्वदेशी सेमीहाईस्पीड ट्रेन जम्मू कश्मीर के विकास का बहुत बड़ा माध्यम बनेगी। नई दिल्ली कटरा वंदे भारत एक्सप्रैस ट्रेन का 5 अक्तूबर से व्यावसायिक परिचालन शुरु होगा। इस ट्रेन से दिल्ली से कटरा की यात्रा 12 घंटे के बजाए 8 घंटे में पूरी की जा सकेगी। आज उद्घाटन कार्यक्रम में रेल मंत्री पीयूष गोयल, स्वास्थ्य, परिवार कल्याण, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्द्धन, प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह और रेल राज्य मंत्री सुरेश सी अंगड़ी भी शामिल थे। रेल राज्य मंत्री श्री अंगड़ी ट्रेन में सवार हो कर श्री माता वैष्णों देवी कटरा के लिए रवाना हुए। श्री शाह ने इस अवसर पर कहा कि यह जम्मू कश्मीर के विकास के लिए बड़ा तोहफा है क्योंकि इससे धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा । उन्होंने कहा कि संविधान का अनुच्छेद 370 जम्मू कश्मीर के विकास में बड़ा बाधा था। यह राज्य दस साल के अंदर देश के सबसे विकसित राज्यों में से एक बनेगा और वंदे भारत एक्सप्रेस राज्य के विकास का बहुत बड़ा माध्यम बनेगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत को 50 खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने का जो लक्ष्य रखा है, उसे प्राप्त करने में भारतीय रेलवे का बड़ा योगदान होगा। उन्होंने कहा कि मुझे भरोसा है कि 370 हटने के बाद कश्मीर के अंदर आतंकवाद और आतंकवादियों की विचारधारा को सम्पूर्ण उन्मूलन करने में हमें सफलता मिलने वाली है।’ श्री शाह ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के रेल से संबंध की चर्चा करते हुए कहा कि आज़ादी के आंदोलन में से रेल को निकाल दें तो आंदोलन ही नहीं रह जाएगा। इस अवसर पर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि गृह मंत्री ने 5 अगस्त को जम्मू कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बनाने की जो ऐतिहासिक पहल की है, वंदे भारत एक्सप्रेस उसी का अगला चरण है। पूरा देश जम्मू कश्मीर को खुद से जोड़ कर देख रहा है। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में श्रीमाता वैष्णों देवी कटरा से बानिहाल तक रेललाइन अढ़ाई साल में बनकर तैयार हो जाएगी। इस समय अंजी और चेनाब के पुलों तथा सुरंगों को जोड़ने का काम तेजी से चल रहा है। उन्होंने कहा कि 15 अगस्त 2022 के पहले कश्मीर रेललाइन के माध्यम से पूरे देश से जुड़ जाएगा और तब कश्मीर से कन्याकुमारी तक एक रेललाइन का सपना पूरा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के वंचित इलाकों में सुविधाएं पहुंचेंगी।
क्या है खासियत
वंदे भारत एक्सप्रैस चलने से दिल्ली और कटरा के बीच यात्रा की अवधि अब महज 8 घंटे की हो गई है। ट्रेन संख्या 22439 नई दिल्ली-कटरा वंदे भारत एक्सप्रैस नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से सुबह 6 बजे रवाना होगी और अपराह्न 2 बजे कटरा पहुंच जाएगी। ट्रेन अम्बाला कैंट, लुधियाना और जम्मू-तवी में 2-2 मिनट रुकेगी। उसी दिन वापसी यात्रा पर ट्रेन संख्या 22440 कटरा-नई दिल्ली वंदे भारत एक्सप्रेस अपराह्न तीन बजे कटरा रेलवे स्टेशन से रवाना होगी और रात 11 बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचेगी। ‘ट्रेन 18’ नाम से भी जाने जाने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस मंगलवार को छोड़कर सप्ताह के सभी दिन चलेगी। इसमें पथराव होने पर ट्रेन को नुकसान से बचाने के लिए विशेष खिड़कियां भी हैं। आवारा पशुओं के कारण होने वाले नुकसान से बचने के लिए ट्रेन में मज़बूत एल्यूमीनियम कवर लगाया गया है। इसमें आरामदायक सीटें, बेहतर वॉश बेसिन, स्वचालित दरवाजें और वाईफाई जैसी कई आधुनिक सुविधाएं मुहैया कराई गई हैं।