दुनिया की सबसे लम्बी झीलबेकल झील


‘दीदी, कुछ लोग कैस्पियन सी को झील क्यों कहते हैं?’
‘वास्तव में यह दुनिया की सबसे बड़ी झील ही है जो सागर कहलाती है। यह 1,43,236 वर्ग मील के क्षेत्रफल में फैली है। लेकिन अगर दुनिया की सबसे गहरी झील की बात हो तो वह साइबेरिया स्थित बेकल झील है। जिसकी गहराई 1.7 किलोमीटर है।’
‘क्या झीलें मीठे पानी का सबसे बड़ा स्रोत हैं?’
‘हां, दुनिया के मीठे पानी का पांचवां हिस्सा झीलों में ही मौजूद है।’
‘दीदी, इन झीलों में पानी कहां से आता है?’
‘इन झीलों में बहुत थोड़ी मात्रा में वर्षा के जरिये पानी आता है जबकि बड़े पैमाने पर ये झीलें नदियों द्वारा भरी जाती हैं।’
‘क्या झीलें धरती में शुरू से हैं?’
‘अगर भूगर्भीय इतिहास देखें तो झीलें आदिकाल से नहीं हैं। यह अभी कुछ हज़ार सालों पहले की देन हैं। हां, कुछ झीलें जैसे साइबेरिया की बेकल को माना जाता है कि वह 2.5 करोड़ साल पुरानी है।’
‘दीदी, झीलों की उपयोगिता क्या है?’
‘झीलों की बड़ी उपयोगिता है। ये पीने वाले पानी का भंडार होती हैं। यहां से पीने वाले पानी की आपूर्ति होती है, इनसे बिजली पैदा होती हैं और खेतों की सिंचाई भी होती है।’ 
‘झीलों का पानी कैसे कम होता है?’
‘आमतौर पर जैसे नदियों के जरिये इनमें पानी आता है उसी तरह नदियां ही इनके पानी को वापस भी खींच लेती हैं। लेकिन ऑस्ट्रेलिया में आइर ऐसी झील है जिसमें पानी वाष्पोत्सर्जन के जरिये कम होता है।’ -इमेज रिफ्लेक्शन सेंटर