लोगों को मुझसे हैं बड़ी उम्मीदें शरद मल्होत्रा


शरद मल्होत्रा वर्तमान में इंडियन टेलीविजन सर्किट के पसंदीदा सितारों में से एक हैं। इस बेबाक बातचीत में प्रतिभाशाली अभिनेता ने अपने पेशेवर फैसलों, मुस्कान को हां कहने की वजह,  येशा रूहानी के साथ काम करने का अनुभव, ऑन स्क्रीन केमिस्ट्री के महत्व सहित कई मुद्दों पर गुफ्तगू की। पेश है उनसे बातचीत के प्रमुख अंश :
14 साल के लीप के बाद मेल लीड में आपको किस तरह की प्रतिक्रियाएं मिली हैं?
-मैं खुद को खुशकिस्मत मानता हूं कि लोग मेरे शोज और मेरी परफॉर्मेंस को देखते हैं। मुस्कान से और ज्यादा अपेक्षाएं हैं। सिर्फ  इसलिए नहीं कि शो 14 साल की लीप के बाद नए उतार-चढ़ाव के लिए तैयार है बल्कि लीप से पहले भी इसका कंटेंट शानदार रहा है। पहले प्रोमो ने पहले ही हर किसी का ध्यान अपनी ओर खींचा है और मुस्कान (येशा) रूहानी और मेरे किरदार रौनक के बीच केमिस्ट्री की भी तारीफें हो रहीं हैं। अपने नए शो और किरदार के लिए अपने प्रशंसकों और इंडस्ट्री के मित्रों से मुझे बहुत सारी प्रशंसा मिली है। इस तरह की सकारात्मक प्रतिक्रिया मुझे आगे बढ़ने और अपना सर्वश्रेष्ठ देने के लिए प्रेरित करती है। 
किस वजह से आपने मुस्कान का हिस्सा बनना पसंद किया?
-एक अभिनेता के तौर पर मैं कहानी और अपनी भूमिका को देखता हूं। मुस्कान में लीप के बाद कहानी ने जो मोड़ लिया वह मुझे बहुत अच्छी लगी। इसमें वे सभी तत्व मौजूद हैं जो किसी शो को मनोरंजक बनाते हैं। कैसे रौनक मुस्कान की जिंदगी में आशा की किरण के रूप में प्रवेश करता है और कैसे उनका सफर सामने आता है ये दर्शकों को बांधे रखती है। हर किरदार को अच्छी तरह से लिखा गया है जो कहानी को रोचक बनाते हैं। इस शो की पेशकश किए जाने की वजह से मैं खुश हूं और मुझे यकीन है कि लोग शो को उतना ही पसंद करेंगे जितना हम काम करने में आनंद ले रहे हैं। 
ऐसा कहा जा रहा है कि मुस्कान के लिए आपने बॉलीवुड की पेशकश ठुकरा दी?
-मैं बस इतना कह सकता हूं कि अपीलिंग स्क्रिप्ट और सशक्त भूमिका की वजह से मैंने मुस्कान के लिए हां कहा। इस समय मैं सिर्फ  शो पर ध्यान केंद्रित कर रहा हूं। मैं बॉलीवुड के ऑफर पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता क्योंकि यह केवल अटकलों को हवा देगा।