सांसद बिट्टू ने भी करवाया डोप टैस्ट


लुधियाना, 6 जुलाई (जुगिंद्र अरोड़ा): पंजाब से नशों का खात्मा करने के लिए राज्य में सरकारी अधिकारियों व कर्मचारियों के डोप टैस्ट करवाने के साथ-साथ विधायकों व सांसदों के डोप टैस्ट करवाने की मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह की ओर से शुरू की गई मुहिम तहत आज लुधियाना लोकसभा क्षेत्र से सांसद सदस्य रवनीत सिंह बिट्टू ने सिविल अस्पताल में जाकर अपना डोप टैस्ट करवाया और वह डोप टैस्ट करवाने वाले पहले पंजाबी लोकसभा सदस्य बन गये हैं। सांसद बिट्टू ने आज दोपहर समय अपने साथियों के साथ सिविल अस्पताल लुधियाना में जाकर डोप टैस्ट करने वाली शाखा में जाकर एक हज़ार रुपए की रसीद कटवाने के बाद एक आम नागरिक की तरह अपना डोप टैस्ट करवाया और उनके डोप टैस्ट की रिपोर्ट अनुसार सांसद बिट्टू कोई भी नशा नहीं करते, दिखाए गए हैं। सांसद बिट्टू ने डोप टैस्ट करवाने के बाद कहा कि पंजाब की पिछली अकाली-भाजपा गठबंधन सरकार के समय में नशों का रूझान इतना अधिक बढ़ गया था कि उसे रोकने के लिए कैप्टन अमरेंद्र सिंह की अगवाई वाली पंजाब सरकार की ओर से सिरतोड़ प्रयास किए जा रहे हैं और नशों की आमद समाप्त होने से पंजाब में अब युवा नशा छोड़ने समय हादसों का शिकार हो रहे हैं। उन्होंने सभी राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों से अपील की कि वह नशों के मामले में राजनीतिक रोटियां सेकने की बजाए पंजाब में से नशों का खात्मा करने के लिए संयुक्त प्रयास करने के लिए आगे आएं ताकि नशा मुक्त पंजाब का निर्माण किया जा सके।