गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व हेतु 200 करोड़ जारी करने के आदेश


चंडीगढ़, 12 जुलाई (अ.स.) : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने आज राज्य के वित्त मंत्री को श्री गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व के समागमों के लिए विकास और बुनियादी ढांचे के कामों के लिए तुरंत 100 करोड़ रुपए जारी करने के लिए कहा है। मुख्यमंत्री ने श्री गुरु नानक देव जी के चरण स्पर्श प्राप्त नगरों सुल्तानपुर लोधी, डेरा बाबा नानक और बटाला के विकास के लिए अगले वित्तीय वर्ष के बजट में और 100 करोड़ का उपबंध करने के लिए भी कहा। प्रकाश पर्व के समागम के लिए गठित की गई राज्य स्तरीय कमेटी की दूसरी बैठक की अध्यक्षता करते हुए कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने अपने प्रमुख सचिव को इस पवित्र मौके पर विभिन्न प्रोजैक्टों को लागू करने के लिए राज्य सरकार की तरफ केंद्र को सौंपे 2145 करोड़ रुपए के प्रस्ताव संबंधी प्रधानमंत्री कार्यालय के पास पैरवी करने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि पाकिस्तान स्थित ऐतिहासिक गुरुद्वारा साहिब जहां पहले सिख गुरु ज्योति-जोत समाए थे, के दर्शनों के लिए सिख श्रद्धालुओं को मुख्य समागमों के दौरान कम से-कम एक सप्ताह विशेष रास्ते के द्वारा खुले तौर पर जाने देने की आज्ञा के लिए वह भारतीय विदेश मंत्रालय को पत्र लिखेंगे कि यह मामला मंत्रालय द्वारा पाकिस्तानी समकक्ष के पास उठाया जाए। कमेटी द्वारा दिए एक अन्य सुझाव के जवाब में मुख्यमंत्री ने सांस्कृतिक मामलों के प्रमुख सचिव को धार्मिक पर्यटन के तौर पर पांच तख्त साहिबान को जोड़ती एक विशेष रेलगाड़ी चलाने की संभावनाएं तलाशने की हिदायत की। पहले सिख गुरु साहिब के प्रकाश पर्व की महानता के मद्देनज़र मुख्यमंत्री ने ग्रामीण विकास एवं पंचायत मंत्री तृप्त राजिन्दर सिंह बाजवा द्वारा सद्भावना के तौर पर राज्यों की विभिन्न जेलों में बंद कैदियों को पहले जारी प्रथा के अनुसार उनके अच्छे और संतोषजनक आचरण के मद्देनज़र रिहा करने के प्रस्ताव पर सहमति ज़ाहिर की। मुख्यमंत्री ने सुल्तानपुर लोधी में 12 नवम्बर, 2019 को मुख्य समागम करवाने के लिए रूप-रेखा बनाने के लिए कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, सुखजिन्दर सिंह रंधावा, विजय इन्दर सिंगला और सुल्तानपुर लोधी से विधायक नवतेज सिंह चीमा पर आधारित चार सदस्यीय कमेटी का गठन किया। यह कमेटी मुख्य समागमों का समय, ननकाना साहिब से अटारी बार्डर वाया सुल्तानपुर लोधी-बटाला और डेरा बाबा नानक, नगर कीर्तन सजाने के रूट संबंधी सुझाव देगी। मुख्यमंत्री ने चल रहे विकास प्रोजैक्टों का प्रत्येक महीने जायज़ा लेने का भी ऐलान किया। बैठक में प्रमुख व्यक्तियों में वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, स्थानीय सरकार मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, सहकारिता मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा, राजस्व मंत्री सुखविन्दर सिंह सरकारिया, शिक्षा मंत्री ओ.पी. सोनी, लोक निर्माण मंत्री विजय इंद्र सिंगला, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल, एम.एल.ए. सुल्तानपुर लोधी नवतेज सिंह चीमा, मुख्य सचिव करन अवतार सिंह, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री तेजवीर सिंह, प्रमुख सचिव सांस्कृतिक मामले विकास प्रताप अन्य कई सीनियर अधिकारी उपस्थित थे।