सोया डीओसी में मंदे के बाद उछाल : सरसों-सोया तेल तेज़


नई दिल्ली, 20 अक्तूबर (एजेंसी): गत सप्ताह के पूर्वार्ध में भी सोया डीओसी बिकवाली के दबाव से  1400/1500 रुपए प्रति टन दबी रही, लेकिन उत्तरार्ध में नीचे वाले भावों पर निर्यातकों की लिवाली आते ही 1000 रुपए प्रति  टन उछल गयी। कच्चे माल में भी 75/80 रुपए की तेजी आ गयी। इसके अलावा सरसों, सोया सहित अन्य खाद्य तेल भी 50/100 रुपए बढ़ गये, क्योंकि कच्चे माल में तेजी बरकरार रहने से मिलिंग पड़ता महंगा हो गया है। आलोच्य सप्ताह के पूर्वार्ध में सोया डीओसी कोटा लाइन के प्लांटों में 33500 रुपए से गिरकर 32000 रुपए प्रति टन नीचे में रह गयी,  क्योंकि पिछले 20 दिनों से निर्यात 40 प्रतिशत रह गया था, उसके बाद एमपी, छत्तीसगढ़, राजस्थान व महाराष्ट्र की मंडियों में एक तरफ सोयाबीन में स्टॉकिस्टों की प्रतिस्पर्धात्मक लिवाली आ गयी, वहीं  निर्यातक भी सोया डीओसी की खरीद करने लगे, जिससे 1000 रुपए उछलकर सप्ताह के उत्तरार्ध में कोटा लाइन में 33000 रुपए एवं दतिया, सुजालपुर लाइन में 32500 रुपए का व्यापार हो गया। अक्तूबर शिपमेंट में अभी काफी माल निर्यातकों को खरीदना है। इसे देखते हुए 1000 रुपए प्रति टन की और तेजी दिवाली से पहले लगने लगी है। इसके साथ-साथ सोयाबीन एमपी की मंडियों में 3150/3200 रुपए बिकने के बाद 3200/3275 रुपए लूज में बिक गया।