सुषमा ने दिया निष्पक्ष जांच का आश्वासन


नई दिल्ली, 30 मार्च (भाषा) : विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आज राज्यसभा में आश्वासन दिया कि ग्रेटर नोएडा में अफ्रीकी छात्रों पर हुए हमले की निष्पक्ष जांच कराई जाएगी। राज्यसभा में आज विपक्ष के कुछ सदस्यों ने अफ्रीकी छात्रों पर हमले का मुद्दा उठाते हुए इस पर चिंता जताई। विदेश मंत्री ने कहा कि दोनों घटनाएं दुर्भाग्यपूर्ण हैं। पहले 19 साल के एक स्थानीय युवक की मौत हो गई और उसके बाद नाइजीरियाई छात्रों पर हमले हुए। उन्होंने कहा कि इन घटनाओं के संबंध में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से बात की गई है और निष्पक्ष जांच का भरोसा दिलाया है। उन्होंने कहा कि राज्य प्रशासन कानून व्यवस्था कायम रखने के लिए कदम उठा रहा है और घायल नाइजीरियाई छात्र का अस्पताल में इलाज चल रहा है। उन्होंने कहा कि जब तक जांच पूरी नहीं हो जाए, तब तक उस पर कुछ भी कहना उचित नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार का प्रयास है कि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति नहीं हो और इसके लिए हम सजग हैं।  इससे पहले जदयू के शरद यादव ने शून्यकाल में यह मुद्दा उठाया और कहा कि विदेश मंत्रालय के साथ ही गृह मंत्रालय को भी कदम उठाना चाहिए।  युद्धस्तर पर कदम उठाए जाने की मांग की। विपक्ष के नेता गुलाम नबी आज़ाद, कांग्रेस के आनंद शर्मा तथा माकपा के सीताराम येचुरी ने भी इस घटना की निंदा करते हुए इस मुद्दे से खुद को संबद्ध किया।  उपसभापति पी.जे. कुरियन ने भी इस घटना की निंदा की और कहा कि हम अमरीका और आस्ट्रेलिया में भारतीयों पर नस्ली हमले की निंदा करते हैं। ऐसे में हम अपने देश में ऐसी घटना को उचित नहीं ठहरा सकते तथा ऐसे मामले में सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।