कांग्रेस पंजाब में दो तिहाई बहुमत हासिल करेगी : आशा कुमारी


चंडीगढ़, 23 जुलाई (विक्रमजीत सिंह मान) : कांग्रेस की पंजाब प्रभारी आशा कुमारी ने आज पंजाब कांग्रेस भवन में कांग्रेसी पदाधि-कारियों के साथ दूसरी बैठक की। इस अवसर पर पंजाब कांग्रेस के सभी विंग व सैलों के प्रभारियों को सक्रिय होकर लोगों के साथ जुड़ने व उनकी समस्याओं संबंधी रिपोर्ट तैयार करने को कहा गया। आशा कुमारी ने हिदायत दी कि सभी सैल व विंगों के प्रभारी लोगों में जाकर सम्पर्क कायम करें और इस संबंधी 31 अगस्त तक रिपोर्ट तैयार करके भेजें। इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रताप सिंह बाजवा, पंजाब कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुनील जाखड़, विपक्ष के नेता चरनजीत सिंह चन्नी, पूर्व रेल मंत्री पवन बांसल, अम्बिका सोनी, लाल सिंह, मनप्रीत सिंह बादल व अन्य वरिष्ठ नेतागण मौजूद थे। इस अवसर पर कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने आशा कुमारी को आश्वासन दिया कि कांगे्रस का आधार दिन-प्रतिदिन मज़बूत हो रहा है और सरकार के खिलाफ लोगों में रोष का लाभ कांगे्रस को ही मिलेगा और कांग्रेस प्रदेश में दो-तिहाई बहुमत हासिल कर सरकार बनाएगी। कैप्टन ने कहा कि अब तक सभी वरिष्ठ नेताओं द्वारा 71 क्षेत्रों में लोगाें के साथ सम्पर्क कायम किया जा चुका है और 8 अगस्त तक 117 क्षेत्रों में सम्पर्क करने का चरण पूरा कर लिया जाएगा।
आशा कुमारी ने कहा कि समूह पदाधिकारी व वर्कर पार्टी की रीढ़ की हड्डी हैं और उनकी मेहनत बदौलत ही पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों में जीत हासिल कर सरकार बनाएगी। उन्होंने कहा कि पंजाब में पार्टी को भारी समर्थन मिल रहा है और समूह नेतृत्व एकजुट होकर सक्रियता से काम कर रहा है और अब पंजाब कांग्रेस में किसी प्रकार की गुटबंदी नहीं रही। उन्हाेंने कहा कि उन्हें प्राप्त हो रही रिर्पोटों के अनुसार प्रत्येक पदाधिकारी व वर्कर अपनी जिम्मेदारी को बाखूबी निभा रहे हैं। उन्हाेंने कहा कि पंजाब में किये दौरे के दौरान उन्हें इस बात का विश्वास हो गया है कि प्रदेश के लोग कांग्रेस की सरकार लाना चाहते हैं। इस अवसर पर आशा कुमारी द्वारा समूह नेतृत्व के साथ प्रदेश के राजनीतिक हालातों बारे जानकारी हासिल कर इसी के आधार पर रणनीति तैयार करने के लिए कहा गया। वरिष्ठ नेतृत्व द्वारा इस अवसर पर पार्टी की बेहतरी संबंधी सुझाव भी दिये गये। इस अवसर पर अन्यों के अलावा विधायक परनीत कौर, महिंदर सिंह केपी, राजा वड़िंग, रवनीत सिंह बिट्टू मौजूद थे। हालांकि बैठक की कार्रवाई बताने के लिए कैप्टन अमरेन्द्र सिंह द्वारा प्रैस कान्फ्रैंस भी रखी गई थी परंतु किसी कारणवश मौके पर ही रद्द कर दी गई। बैठक पंजाब कांग्रेस भवन की जगह इस बार कैप्टन अमरेन्द्र सिंह की चंडीगढ़ स्थित रिहायश में रखी गई थी।
‘आप’ नेताओं के कारनामों के कारण लोगों के दिलों से उत्तरी पार्टी : कैप्टन : कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने कहा कि प्रदेश में सरकार विरोधी हवा का लाभ केवल कांग्रेस को ही होगा, क्योंकि आम आदमी पार्टी के नेताओं के दिन-प्रतिदिन के कारनामों के कारण यह पार्टी लोगों के दिलों से उतर गई है। उन्होंने कहा कि भगवंत मान द्वारा संसद की मर्यादा भंग करना, दारू पीकर संसद जाने का मामला उठना व पहले के कई मामलों के चलते लोग इस पार्टी के अनाड़ी नेताओं से ऊब चुके हैं।
कांग्रेस में दिखी एकजुटता-बाजवा, जाखड़ सहित समूह नेता एक मंच पर आए : अब तक कांग्रेस की बैठक में किसी न किसी वरिष्ठ नेता की गैर-मौजूदगी पार्टी की गुटबंदी को उजागर करती रही है परंतु यह पहली बार देखने को मिला है कि पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष व राज्यसभा सदस्य प्रताप सिंह बाजवा व वरिष्ठ नेता सुनील जाखड़ सहित समूह नेतृत्व एकजुटता से एक मंच पर नज़र आया, जिसे देखकर आशा कुमारी को एक उम्मीद की किरन ज़रूर दिखाई दी होगी और सूत्रों के अनुसार वह इस संबंधी संतुष्ट भी नज़र आईं।
किसानों के मसलों पर गम्भीरता से कदम उठाएगी कांग्रेस : राज्यसभा सदस्य व पूर्व अध्यक्ष प्रताप सिंह बाजवा ने बातचीत करते हुए कहा कि प्रदेश के अन्य ज्वलंत मुद्दाें के अलावा कांग्रेस किसानों के मसलों को गम्भीरता से लेगी और इस संबंधी उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा भी विशेष हिदायतें दी गई हैं। इस गम्भीर मसले को पार्टी द्वारा जहां मैनीफैस्टो में शामिल किया जाएगा वहीं प्रदेश में किसानों के साथ सम्पर्क बनाकर उनकी समस्याओं व मांगों को गहराई से जांचा जाएगा और कृषि विशेषज्ञों के साथ मिलकर मुनाफे वाली कृषि संबंधी प्रयास करने की भी योजना है। बाजवा ने कहा कि वह इस संबंधी कृषि यूनिवर्सिटी के माहिरों के साथ भी विचार-विमर्श करेंगे ताकि किसानों के लिए फायदेमंद कृषि संबंधी योजना बनाकर उन्हें आत्महत्याओं व कज़र्ों के दौर से निकाला जा सके।