कांग्रेस में उप-मुख्यमंत्री की परम्परा नहीं : कैप्टन


अमृतसर, 7 दिसम्बर (गगनदीप शर्मा) : कांग्रेस में उप-मुख्यमंत्री की रवायत नहीं है। रही बात कैबिनेट में विस्तार की तो वह गुजरात चुनावों के परिणाम घोषित होने के बाद कर दिया जाएगा। इन शब्दों का प्रकटावा पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने अमृतसर में पाईटैक्स मेला 2017 का शुभारम्भ करने से पहले एक निजी होटल में प्रैस सम्मेलन दौरान किया। इस दौरान उन्होंने अमृतसर शहरी विकास को लेकर पार्टी के विजन को भी जारी किया। उन्होंने कहा कि किसान कर्जा माफी तथा कैप्टन सरकार द्वारा किए  स्मार्ट फोन देने के वायदा गुजरात चुनाव नतीजों के बाद पूरा किया जाएगा।  अमृतसर में राज्य के शहरी विकास के लिए पार्टी की योजनाबद्धी संबंधी दस्तावेज़ जारी करने वक्त पत्रकारों के रू-ब-रू होते हुए कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने कांग्रेस द्वारा विधानसभा चुनावों दौरान किए गए वायदों पर असफल रहने की बात को नकारते हुए कहा कि कांग्रेस को सत्ता में आए करीब 8 महीने हो चुके हैं और इतने कम समय में सभी वायदे पूरे करने असंभव हैं जबकि पूर्व अकाली-भाजपा सरकार की अनियमितताओं कारण पंजाब पूरी तरह वित्तीय संकट से जूझ रहा है। उन्होंने कहा कि किसानों की कर्जा माफी व नौजवानों को नि:शुल्क स्मार्ट फोन देने का काम निगम चुनावों के बाद शुरू कर दिया जाएगा। व्यापारिक इकाईयों के बारे में बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य की व्यापारिक इकाईयां आर्थिक साधन जुटाने में मदद दे रही है। मार्च महीने में राज्य सरकार ने 5000 करोड़ से अधिक व्यापारिक समझौते किए हैं। केंद्र सरकार द्वारा लागू की गई जी.एस.टी. संबंधी उन्होंने कहा कि यह एक जल्दी में लिया गया फैसला है। उन्होंने स्पष्ट किया कि राज्य की एक्साईज नीति में तबदीली के लिए केरला, तमिलनाडू और राजस्थान की नीतियों की जांच की जा रही है। 
निकाय चुनावों में कांग्रेस की तरफ से जारी की गई सूची में भाई-भतीजावाद भारी होने की बात को नकारते हुए उन्होंने कहा कि चुनाव जीत सकने की समर्था रखने वाले उम्मीदवारों को कमेटी की फीड बैक के आधार पर टिकटें बांटी गई हैं। गुजरात चुनावों की बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वरिष्ठ नेताओं से मिली जानकारी मुताबिक कांग्रेस पार्टी बराबरी की टक्कर पर है और सम्भावना है कि वोटर सत्ता परिवर्तन ले आएंगे। ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी का बतौर कांग्रेस प्र्रधान चुनाव पार्टी में बड़ा उत्साह भरेगा। पंजाब में कट्टरपंथियों द्वारा हाल ही में की गई कार्यवाहियों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा केन्द्रीय एजैंसियों के साथ इस मुद्दे का समाधान किया जा रहा है। जेलों में गैंगस्टरों से मोबाइल फोन बरामद प्रयोग किए जाने के बारे में पूछने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके लिए जेलों में विशेष जैमर लगाए जा रहे हैं।  उन्होंने केबल के बारे में बात करते हुए कहा कि सरकार किसी पक्ष के लिए नहीं बल्कि प्रैस की स्वतंत्रता के लिए सभी को बराबर अवसर दे रही है। इसके अलावा उन्होंने आवारा पशुओं द्वारा किसानों के खेतों को खराब करने, खूंखार आवारा कुत्तों के बारे में भी प्रयास किए जाने की बात कही। इस मौके पर सांसद व पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान सुनील जाखड़, सांसद गुरजीत सिंह औजला, कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, सुखबिंदर सिंह सुखसरकारिया, हरप्रताप सिंह अजनाला, ओम प्रकाश सोनी, डॉ. राज कुमार वेरका, इंद्रबीर सिंह बुलारिया, सुनील दत्ती, तरसेम सिंह डी.सी., सुनील दत्ती, सुखजिंदर सिंह डैनी बंडाला (सभी विधायक), पूर्व डिप्टी स्पीकर प्रो. दरबारी लाल, ज़िला कांग्रेस कमेटी के शहरी प्रधान जुगल किशोर शर्मा भी मौजूद थे।