मंत्रियों व विधायकों के भी हों डोप टैस्ट : बादल


बठिंडा, 5 जुलाई (कंवलजीत सिंह सिद्धू /सुखविन्दर सिंह सुखा): सरकारी मुलाजिमों और अधिकारियों के साथ मंत्रियों और विधायकों के भी डोप टैस्ट होने चाहिएं। इन विचारों को प्रगट करते हुए पूर्व मुख्य मंत्री प्रकाश सिंह बादल ने बठिंडा में कहा। वह अपनी मैडीकल जांच के लिए यहां आए हुए थे। उन्होंने कहा कि नशा रोकने के लिए अकेली सरकार कुछ नहीं कर सकती, इस लिए संपूर्ण राजनैतिक पार्टियां, पंचायतों, सामाजिक संगठनों और लोगों को मिल कर प्रयास करने की आवश्यकता है। पूर्व मुख्य मंत्री को कैप्टन अमरेंद्र सिंह की तरफ  से मुख्य मंत्री बनने से पहले गुटका साहिब हाथ में पकड़ कर चार सप्ताह में नशाखोरी समाप्त करने के बयान पर फि र तंज कसते हुए कहा कि जो वायदे पूरे न हो सकें ऐसे वायदे करने ही नहीं चाहिए। नशा तस्करों के लिए फ ांसी की सजा संबन्धित पंजाब की कांग्रेस सरकार की तरफ  से लिए गए फै सले पर पूर्व मुख्य मंत्री ने कहा कि सरकार थोड़ा बहुत नशा करने वाले जिनको पकड़ कर जेलों में ठूंस रही है उनको फ ांसी पर नहीं चढ़ाया जा सकता। सरकार बड़े नशा तस्करों को काबू करके कानूनी कार्यवाही करे। स. बादल ने फ सलों के कम से कम समर्थन मूल्य में किये गए वृद्धि के फै सले को बड़ा और किसान हितैषी फै सला बताते हुए केंद्र सरकार का आभार प्रगट करते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने मतदान मौके स्वामी नाथन रिपोर्ट के मुताबिक किसानों को फसलों के भाव देने का किया वायदा निभाया है। मीडिया के साथ बातचीत करने से पहला स. बादल ने अपनी, आंखें और गले की जांच करवाई।