दशहरा खत्म होते ही रामलीला के कलाकार मुख्य चौक में उलझे


माहिलपुर, 9 अक्तूबर (अ.स) : बीती रात माहिलपुर शहर में उस समय भारी हंगामा हो गया जब मुख्य चौक में रावण दहन के बाद कमेटी मैंबरों की अगुवाई में रामलीला के कलाकार वापिस आ रहे थे। देखते ही देखते एक कलाकार ने अपने सबसे प्यारे साथी सहित कमेटी मैंबरों की मारपीट करनी शुरू कर दी। मुख्य चौक में दो घंटे चले ड्रामे के बाद आखिरकार एक सरूप के साथ दूसरे सरूप  को लाया गया तथा दोनों का मिलाप करने के बाद बंद पड़ा ट्रैफिक चालू करवाया गया। जानकारी के अनुसार दशहरा कमेटी द्वारा दशहरा खत्म होने के बाद कलाकारों की टीम वापिस आ रही थी। मुख्य चौक में एक मुख्य कलाकार को न जाने क्या सूझा कि उसने कमेटी मैंबरों तथा अन्य व्यक्तियों को अपशब्द बोलने शुरू कर दिए। उल्लेखनीय है कि माहिलपुर शहर में सदियों पुरानी परम्परा के अनुसार महावीर दल द्वारा हर वर्ष महावीर की झांकी निकाली जा रही थी। कमेटी मैंबरों ने इस बार महांवीर का दूसरा सरूप तैयार करके दूसरी झांकी निकाल दी। दो दिन तो सब कुछ ठीक चलता रहा परंतु बीती रात दशहरा खत्म होने पर जब कलाकारों की टीम वापिस आ रही थी तो मुख्य चौक में एक मुख्य किरदार निभा रहे नौजवान ने चौक में ही धरना लगा लिया। धार्मिक श्रद्धा देख कमेटी मैंबर व अन्य संगत भी चौक में बैठ गई जिस कारण दोनों तरफ वाहनों की लंबी लंबी कतारें लग गई। उक्त दोनों कलाकाराें ने बैठे हुए कमेटी मैबरों की मारपीट करनी शुरू कर दी। यहां तक कि कमेटी अध्यक्ष तथा अन्य मैंबरों की भी अच्छी तरह से मारपीट की गई। उक्त कलाकारों ने दो घंटे खूब तमाशा किया। यहां तक कि मुख्य किरदार निभा रहे कलाकार ने अपने सबसे चहेते शिष्य को मारना शुरू कर दिया। आखिरकार पुलिस तथा अन्य लोगों ने दूसरे कलाकार का बुलाकर दोनों कलाकारों का मिलाप करवाया। पुलिस भी दो घंटे तक तमाशा देखती रही जबकि ट्रैफिक बंद होने के कारण अधिकतर लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।