चंडीगढ़ पर हक जताने वाले जिम्मेदारी आने पर पीछे हटते है पंजाब-हरियाणा


चंडीगढ़, 2 दिसम्बर (सुरजीत सिंह सत्ती): पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस आर.एस. झा व जस्टिस राजीव शर्मा की डिवीज़न बैंच ने तीखी टिप्पणी करते कहा है कि चंडीगढ़ पर अपना-अपना अधिकार जिताने वाले पंजाब व हरियाणा जिम्मेदारी पड़ने पर पीछे हट जाते हैं। मामला सुखना कैचमैंट एरिया में कांसल द्वारा का काफी हिस्सा पंजाब के मास्टर प्लान का रिहायशी क्षेत्र है। बैंच का ध्यान दिलाया कि कुछ अवैध निर्माणों को नोटिस दिए गए हैं व इन नोटिसों पर अदालत द्वारा रोक लगाई हुई है व इसी कारण आज तक निर्माणों पर कार्रवाई नहीं हो सकी। दूसरी तरफ हरियाणा ने कहा कि कैचमैंट एरिया में हरियाणा द्वारा कोई अवैध निर्माण नहीं हुई है। इसी पर हाईकोर्ट ने कहा कि वैसे चंडीगढ़ पर पंजाब व हरियाणा दोनों ही अपना-अपना हक जिताते हैं परंतु जब किसी काम की ज़िम्मेदारी आती है, उस समय पीछे हट जाते हैं।